नवाज़ शरीफ की मुश्किलें बढ़ीं, अब इस मामले में फंसे

May 27 2019 05:30 PM
नवाज़ शरीफ की मुश्किलें बढ़ीं, अब इस मामले में फंसे

लाहौर: पाकिस्तान के शीर्ष भ्रष्टाचार निरोधक निकाय की एक टीम पाक के पूर्व पीएम नवाज शरीफ से कोट लखपत जेल में सोमवार को सवाल जवाब करेगी. जर्मनी से 30 बुलेटप्रूफ सरकारी वाहनों की गैर कानूनी रूप से खरीद और उनके इस्तेमाल को लेकर शरीफ से सवाल जवाब किया जाएगा.

राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) की चार सदस्यीय एक टीम कोट लखपत जेल पहुंच चुकी है, जहां 69 साल के नवाज़ शरीफ, अल-अजीजिया मिल भ्रष्टाचार मामले में सात साल कैद की सजा काट रहे हैं. टीम जर्मनी से 34 बुलेटप्रूफ वाहन बगैर सीमा शुल्क का भुगतान किए कथित तौर पर आयात करने के मामले में तीन बार पीएम रहे शरीफ के बयान दर्ज करेगी.

स्थानीय मीडिया ने खबर दी है कि भ्रष्टाचार निरोधक निकाय ने जानकारी देते हुए बताया है कि इन कारों की खरीद 19वें दक्षेस शिखर सम्मेलन 2016 में आने वाले अतिथियों के लिए सीमा शुल्क का भुगतान किए बिना की गई. एनएबी के अनुसार नवाज़ शरीफ ने इन 34 कारों में से 20 को अपने काफिले में शामिल कर लिया था. इन कारों का व्यक्तिगत उपयोग उन्होंने और उनकी बेटी मरियम नवाज ने भी किया.

वर्ल्ड कप को लेकर बोले मलिंगा, कहा- क्यों नहीं ले सकता एक और हैट्रिक

शाकाहारी यात्री को थमा दिया चिकन सैंडविच, एयर एशिया पर लगा 1.54 लाख का जुर्माना

पाक में तोड़ा गया बाबा गुरु नानक महल, शिकायत के बाद भी अधिकारी मौन