13 दिन बाद भी जेटली की हालत में कोई सुधार नहीं, AIIMS में लगा नेताओं का तांता

Aug 22 2019 10:33 AM
13 दिन बाद भी जेटली की हालत में कोई सुधार नहीं, AIIMS में लगा नेताओं का तांता

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली को यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है। उनकी हालत अब भी नाजुक बनी हुई है। इस बीच कई नेता उनकी तबियत का हाल जानने एम्स पहुंचे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी अपनी पुत्री प्रतिभा आडवाणी के साथ अरुण जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए एम्स पहुंचे थे।

9 अगस्त, 2019 को सांस लेने में समस्या और बेचैनी महसूस करने के बाद उन्हें अस्पताल लाया गया था। मंगलवार को केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी और प्रकाश जावड़ेकर भी जेटली का हालचाल जानने के लिए एम्स पहुंचे थे। हालांकि, तब से एम्स द्वारा पूर्व वित्त मंत्री का कोई मेडिकल बुलेटिन नहीं जारी किया है। लेकिन एम्स से संबंधित सूत्रों की मानें तो जेटली की हालत में खासा सुधार नहीं आया है। 

इनके अलावा बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, हरसिमरत कौर बादल और भाजपा महासचिव अरुण सिंह ने भी एम्स पहुंचकर अरुण जेटली का हालचाल जाना। डॉक्टरों के अनुसार, जेटली के दिल और फेफड़े सही से काम नहीं कर रहे हैं,इसलिए उन्हें कार्डियो-न्यूरो सेंटर में एक्सट्रॉकोर्पोरियल मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेशन (ECMO) और इंट्रा-एओर्टिक बैलून पंप (IABP) सपॉर्ट पर रखा गया है

रविदास मंदिर को लेकर भीम आर्मी का विरोध प्रदर्शन, पार्टी प्रमुख चंद्रशेखर समेत 91 गिरफ्तार

6 महीने बाद मिग-21 के कॉकपिट में वापस लौटे पाक को धुल चटाने वाले अभिनन्दन

चिदंबरम की गिरफ़्तारी पर नकवी का तंज, कहा- भ्रष्टाचार और कांग्रेस एक दूसरे के पूरक