महिला विश्व चैंपियनशिप में लवलीना के सामने पूर्व चैम्पियन की चुनौती

तोक्यो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता लवलीना बोरगोहेन इस्तांबुल में सोमवार से शुरू हो रही IBA महिला वर्ल्ड मुक्केबाजी चैंपियनशिप के 12वें सत्र के पहले दिन पूर्व चैम्पियन चेन निएन-चिन से भिड़ने वाली है। टूर्नामेंट में भारतीय मुक्केबाजों को मिश्रित ड्रॉ मिला है जिसमें बोरगोहेन (70 किग्रा) के मुकाबले से इंडियन अभियान शुरू होने वाला है। बोरगोहेन तोक्यो ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल में निएन-चिन को हरा चुकी है लेकिन चीनी ताइपे की मुक्केबाज ने इस टूर्नामेंट के 2018 और 2016 सत्र में क्रमश: स्वर्ण और कांस्य पदक को भी अपने नाम कर चुके है।

2 बार की एशियाई चैम्पियन पूजा रानी (81 किग्रा), नंदिनी और निकहत जरीन (52 किग्रा) को भी अपने-अपने वर्ग में कड़ा ड्रॉ भी देखने के लिए मिला है। पूजा अंतिम 16 के दौर में दो बार की विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता हंगरी की तिमिया नेगी से भिड़ते हुए नज़र आने वाले है, जबकि नंदिनी (81 किग्रा से अधिक) को पहले दौर में जीत हासिल हुई, लेकिन क्वार्टर फाइनल में उनका सामना मोरक्को की कांस्य पदक विजेता खदीजा अल-मर्डी से होने वाला है। निकहत पहले दौर में मैक्सिको की हेरेरा अल्वारेज़ से भिड़ने वाले है।

खबरों से मिली जानकारी के अनुसार जैस्मिन (60 किग्रा) पहले दौर में 2 बार की युवा एशियाई चैंपियन थाईलैंड की पोर्नटिप बुपा से भिड़ने वाले है। अन्य भारतीयों में अंकुशिता (66 किग्रा) , नीतू (48 किग्रा), अनामिका (50 किग्रा), शिक्षा (54 किग्रा), मनीषा (57 किग्रा), परवीन (63 किग्रा) और स्वीटी (75 किग्रा) को अपेक्षाकृत आसान ड्रॉ खेला गया है।

3000 मीटर स्टीपलचेस राष्ट्रीय रिकार्डधारी Avinash Sable ने बनाया नया रिकॉर्ड

अभिनव देसवाल ने इस गेम में जीता गोल्ड मेडल

टॉड बोहली ने इतने अरब डॉलर में खरीदा चेल्सी क्लब

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -