असम में घुसपैठियों के नाम पर हौव्वा खड़ा कर रही है भाजपा : हरीश रावत

असम में घुसपैठियों के नाम पर हौव्वा खड़ा कर रही है भाजपा : हरीश रावत

गुहाटी .असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ़ सिटीजन्स (एनआरसी) की नयी सुची में चालीस लाख लोगों का नाम शामिल न होने के बाद से इस मुद्दे पर देश भर की राजनीती गर्माती ही जा रही है। अब इसी मामले में कांग्रेस के दिग्गज नेता और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को घेरने की कोशिश की है। 

अब असम के पूर्व मुख्यमंत्री ने निकाली NRC में खामियां

हरीश रावत ने भाजपा पर  आरोप लगाया है वह विदेशी घुसपैठियों के नाम पर सिर्फ हौव्वा खड़ा करने का काम कर रही है और कुछ नहीं। रावत ने यह भी कहा  कि उनकी पार्टी अब राज्य में नेशनल रजिस्टर ऑफ़ सिटीजन्स (एनआरसी) के मुद्दे पर सत्तारूढ़ दल के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाएगी। इसके साथ ही कांग्रेस उन 40 लाख लोगों की भी हर संभव मदद करेगी जिनके नाम एनआरसी के आखिरी मसौदे में शामिल नहीं किये गए थे। 

कोलकाता में गरजे अमित शाह, कहा हम बांग्ला विरोधी नहीं, पर ममता विरोधी जरूर


  
हरीश रावत का कहना है कि इन 40 लाख लोगों में बड़ी संख्या में ऐसे लोग भी हैं जो भारत के वास्तविक नागरिक हैं। आपको बता दे कि नेशनल रजिस्टर ऑफ़ सिटीजन्स (एनआरसी) एक ऐसी संस्था है जिसे यह पता लगाने के लिए स्थापित किया गया था कि भारत के विभिन्न राज्यों में कितने लोग वैध तरीके से रह रहे है और कितने लोग अवैध तरीको से। एनआरसी आमतौर पर  उन्ही राज्यों में लागु की जाती है जो अंतरास्ट्रीय सीमा से लगे होते है और जहा विदेशियों के अवैध तरीके से घुसने की गुंजाईश होती है। 

ख़बरें और भी 

2019 में देश के सभी राज्यों में लागू किया जाएगा NRC - ओपी माथुर

कांग्रेस के नेता तरुण गोगोई का दावा, हमारा था NRC प्रोजेक्‍ट

रोहिंग्‍या यहां बस गए तो दस कश्‍मीर और तैयार हो जाएंगे : स्‍वामी रामदेव

?