अब विदेशी हथियारों पर दिखेगा 'मेड इन इंडिया' का टैग

थिरुविदंथाई में डिफेंस एक्सपो 2018 में पांच से ज्यादा भारतीय कंपनियों ने अपने प्लान के बारे में बताते हुए कहा कि अब जल्द ही विदेशी हथियारों पर 'मेड इन इंडिया' का टैग देखने को मिलेगा. यूएस और यूके में स्पेशल फोर्स द्वारा प्रयोग की जाने वाली रायफलों पर मेड इन इंडिया का टैग देखने को मिलेगा. इन हथियारों को विदेशी पार्टनर्स को एक्सपोर्ट किया जायेगा. बता दें कि ये राइफल्स और हथियार भारतीय सेना द्वारा प्रयोग किये जाने वाले हथियारों से कही ज्यादा आधुनिक है. 

अधिकारियों का कहना है कि इन हथियारों को फिलहाल भारतीय सेना में शामिल करने में थोड़ा समय लगेगा. उनके मुताबिक इसकी खरीद प्रक्रिया काफी लम्बी है जिसकी वजह से इसमें अधिक समय लग रहा है. नेको डिजर्ट टेक डिफेंस के मैनेजिंग डायरेक्टर आनंद जायसवाल ने बताया कि, 'हमने जेवी कंपनी को ट्रांसफर ऑफ टेक्नालॉजी के तहत राइफल्स बनाने का जिम्मा सौंपा है. भारत सरकार ने डेढ़ महीने पहले ही लाइसेंस दिया है. कंपनी आने वाले कुछ महीनों में राइफल्स बनाने का काम शुरू कर देगी.'

उन्होंने बताय कि इन राइफल्स का प्रयोग स्पेशल फोर्स द्वारा चेक रिपब्लिक, यूएई लिथुआनिया, थाईलैंड और कई देशों के द्वारा किया जाता है. स्टंप स्कूयल के मैनेजिंग डायरेक्टर सतीश मछानी ने कहा कि, 'हमने लाइसेंस के लिए आवेदन कर दिया है, जैसे ही हमे लाइसेंस मिलेगा, हम काम शुरू कर देंगे. सीबीसी दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी हथियार निर्माता कंपनी है और उसकी योजना है कि वो भारत में अपनी आंतरिक शाखाओं को विकसित करे। जिसके बाद हम हथियारों को एक्सपोर्ट कर सकेंगे.' 

 

IPL 2018 LIVE : मुंबई इंडियंस ने जीता 21 हजार बच्चों का दिल

IPL 2018: तूफानी शुरुआत के बाद मुम्बई को लगे दो झटके

IPL 2018: मुंबई के इस रिकॉर्ड से गौतम हुए और 'गंभीर'

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -