ट्रम्प के नाम पर बनी फुटबॉल टीम

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अमेरिकी दूतावास को तेल अवीव से हटाकर येरूशलम में स्थापित कर दिया. जिसके कारण उनके फैसले के सम्मान में इस्राइल के सबसे मशहूर फुटबाल क्लब ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नाम पर क्लब का नाम बदलकर बीटार ‘ ट्रंप ’ येरूशलम कर दिया.

एक जानकारी के मुताबिक अमेरिका के नये दूतावास की आधिकारिक शुरुआत से पहले बीटार येरूशलम ने घोषणा की कि वह ट्रंप के साहसिक कदम को सम्मान प्रदान करना चाहता है.इस क्लब ने अपने बयां में कहा, येरूशलम 70 वर्षों तक मान्यता पाने के लिये इंतजार करता रहा और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने साहसिक कदम उठाते हुए येरूशलम को इस्राइल की राजधानी के रूप में मान्यता दी है. राष्ट्रपति ट्रंप ने साहस तथा इस्राइली लोगों और उनकी राजधानी के प्रति सच्चा प्यार दिखाया है.

साथ ही इसके आगे  क्लब ने कहा, शहर के प्रमुख प्रतीकों में से एक फुटबाल क्लब बीटार येरूशलम राष्ट्रपति का उनके प्यार और समर्थन के लिये सम्मान करके खुश है. एक जानकारी के अनुसार बताया गया है कि बीटार छह बार का इस्राइली लीग चैंपियन है और उसका विवादों से पुराना नाता रहा है. उसने 2013 में रूसी लीग क्लब टेरेक ग्रोज्नी के दो मुस्लिम खिलाडिय़ों को अनुबंधित किया था जिसके बाद समर्थकों ने उसके कार्यालय में आग लगा दी थी.

जर्मनी के एलेक्सांद्र ज्वेरेव ने मैड्रिड ओपन जीता

IPL 2018: पंजाब को 10 विकेट से हरा आरसीबी ने बिगाड़ा पॉइंट्स टेबल का गणित

नेमार बने फ्रांस के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -