रोज रात को करना चाहिए पैरों में मालिश, होते हैं ये बेहतरीन फायदे

 

कई बार दिन भर चलने के बाद बड़ी थकान होने लगती है और इसकी वजह से पैरों और तलवों में जकड़न और दर्द की समस्‍या शुरू हो जाती है जो हमें परेशान कर देती है। ऐसा होने पर पैरों में मालिश काफी आराम पहुंचाती है। जी हाँ और सभी लोगों को रोज रात के समय पैरों की मालिश करनी चाहिए। जी दरअसल कई शोधों में  यह पाया गया है कि पैरों में मालिश के कई फायदे हैं। जी दरअसल मालिश करने से पैरों के दर्द में तो कमी आती ही है, तनाव भी कम होता है।

इसके अलावा पैरों में अगर रोज मालिश की जाए तो एनर्जी भी बूस्‍ट होती है। जी दरअसल पैरों में जब मसाज किया जाता है तो इससे नर्वस सिस्‍टम एक्टिव हो जाता है जिससे दिमाग में मौजूद इंडोरफिन कैमिकल का प्रोडक्‍शन बढ़ जाता है। इसके अलावा शोधों में पाया गया है कि एपेन्डिक्‍स आदि की सर्जरी के बाद जिन लोगों के पैरों में मालिश कराई गई उन्‍हें कम दर्द सहना पड़ा और पेनकिलर दवाओं का भी उन्‍हें कम सेवन करने की जरूरत पड़ी। अब हम आपको बताते हैं पैरों में मालिश के फायदे।


पैरों में मालिश के फायदे-

मसल्‍स को बनाता है मजबूत- पैरों में रेग्‍युलर मसाज करने से मसल्‍स के टीशू हेल्‍दी रहते हैं जिससे वहां के मसल्‍स लंबी उम्र तक मजबूत बने रहते हैं। इसी के साथ मसाज से पैरों का ब्‍लड सर्कुलेशन भी अच्‍छा होता है जिससे नर्व डैमेज और डायबिटीज में भी फायदा पहुंचता है।

डिप्रेशन होता है दूर- अगर आप मानसिक रूप से अशांत महसूस कर रहे हैं और डिप्रेशन जैसा लग रहा है तो आपको पैरों में मसाज कराना चाहिए।

बेहतर नींद के लिए- गर आपको रात में नींद नहीं आ रही तो आप सरसो के तेल या नारियल तेल से धीरे-धीरे पैरों में मसाज करें।

स्‍पीड रिकवरी- पैरों की मालिश की मदद से आप एड़ी, तलवों, पैर आदि में हुई इंज्‍यूरी को जल्‍दी से जल्‍दी रिकवर कर सकते हैं। सबसे खास तौर पर जो लोग एथलीट हैं या जो लोग अत्‍यधिक वर्कआउट कर रहे हैं।

प्रेग्नेंसी में फायदेमंद- प्रेग्नेंसी के दौरान अगर आपके पैरों में सूजन आ जाती है तो आपको जरूर फुट मसाज लेनी चाहिए।

नहीं है घबराने की जरूरत, महामारी नहीं बन सकती मंकीपॉक्स

12 देशों में मंकीपॉक्स के 80 से अधिक मामलों की पुष्टि: WHO

लॉन्ग ड्राइव के दौरान होता है पीठ में दर्द, तो आजमाएं ये ट्रिक्स

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -