महिलाओं की समस्या को दूर करती ये चीज़ें

महिलाओं की समस्या को दूर करती ये चीज़ें

महिलाओं को कई तरह की समस्या होती है जिससे वो हमेशा ही जूझती रहती हैं. साथ ही इसका इलाज भी करवाती रहती हैं ताकि उन्हें किसी तरह की दिक्कत ना हो. लेकिन कुछ चीज़ें ऐसी हैं जिन्हें अपनाकर आप अपने स्वस्थ का ध्यान रख सकती हैं. बता दें, मूड में बदलाव, बांझपन, सेक्स समस्या, मासिक उतार-चढ़ाव, ओव्यूलेशन जैसी समस्याओं के चलते महिलाओं को शारीरिक और मानसिक रूप से परेशान होना पड़ता हैं. इन समस्याओं का मुख्य कारण होता हैं हार्मोन्स का संतुलित ना हो पाना. इसे ही दूर करने के लिए आपको अपने आहार पर भी ध्यान देना है. 

अनार
अनार एंटीऑक्सिडेंट का भंडार है. अमेरिकन एसोसिएशन फॉर कैंसर रिसर्च के एक अध्ययन के अनुसार, अनार में शरीर में एक्स्ट्रा एस्ट्रोजन उत्पादन को कम करने की क्षमता होती है. इसके अलावा अनार में एस्ट्रोजेन को प्रतिक्रिया देकर स्तन कैंसर के प्रकारों को रोकने की क्षमता होती है.

एवोकाडो
इस फल को सुपरफूड माना जाता है. यह फल तनाव हार्मोन को बैलेंस करने में मदद कर सकता है, और यहां तक कि आपके मासिक धर्म को नियंत्रित करने वाले हार्मोन को भी प्रभावित कर सकता है. यह ब्लड कोलेस्ट्रॉल लेवल के अलावा तनाव हार्मोन कोर्टिसोल को संतुलित करने में मदद करता है.

हल्दी
हल्दी को इन्फ्लेमेशन के इलाज के लिए एक महान उपाय के रूप में जाना जाता है. क्योंकि यह करक्यूमिन से बना होता है. हल्दी में कई हीलिंग गुण पाए जाते हैं. 2009 के एक अध्ययन में यह भी पाया गया कि हल्दी में गठिया से पीड़ित लोगों में दर्द को कम करने की क्षमता थी. सोया की तरह, हल्दी का तत्व करक्यूमिन एस्ट्रोजेन को प्रभावित करने के साथ मासिक धर्म के दर्द को कम करने में मदद कर सकता है.

सोयाबीन
सोया एस्ट्रोजन लेवल को प्रभावित करता है, लेकिन इसके कई अन्य लाभ भी हैं, खासकर मेनोपॉज में. एक अध्ययन के अनुसार नियमित रूप से थोड़ी मात्रा में सोया के सेवन से मेनोपॉज के दौरान महिलाओं पर एस्ट्रोजेन प्रभाव पड़ता है. वेबएमडी के अनुसार, यह हॉट फ्लैशेस के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है.

ये आदतें आपको बना देती है समय से पहले बूढ़ा, जानें

घरेलु तरीके आपके कान की खुजली करेंगे दूर

इन चीज़ों को खाने के बाद कभी ना करें दूध का सेवन, बन जायेगा जहर