दिल्ली पर मंडराया बाढ़ का खतरा, सरकार ने जारी की एडवाइजरी, एजेंसियां अलर्ट

Aug 19 2019 10:38 AM
दिल्ली पर मंडराया बाढ़ का खतरा, सरकार ने जारी की एडवाइजरी, एजेंसियां अलर्ट

नई दिल्ली: लगातार बारिश की वजह से यमुना नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है. सोमवार सुबह 6 बजे यमुना का जलस्तर 204.40 मीटर रिकॉर्ड किया गया है. ये खतरे के निशान से मात्र एक मीटर नीचे है. पिछले 12 घंटों के भीतर हथिनीकुंड बैराज से लगभग 21 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया. रविवार शाम 6 बजे लगभग 8 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया था. इसके बाद रात 9 बजे लगभग 7 लाख क्यूसेक और रात 1 बजे 4.75 लाख क्यूसेक पानी हथिनीकुंड बैराज से छोड़ा गया था. सोमवार सुबह भी 2.76 लाख क्यूसेक पानी छोड़ गया.

यमुना नदी का जलस्तर अभी 204.40 मीटर है. दिल्ली में यमुना नदी का जल रविवार दोपहर 12 बजे तक 'चेतावनी चिह्न' से 1.13 मीटर नीचे था.  रिपोर्ट के अनुसार, हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से प्रत्येक घंटे में पानी छोड़ा जा रहा है. रविवार को दोपहर के वक़्त तक़रीबन छह लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया. शनिवार को भी जोरदार बारिश के बाद बैराज से पानी छोड़ा गया.

हथिनी कुंड बैराज से छोड़े जाने वाला पानी, जो दिल्ली में पीने का पानी मुहैया कराता है को आम तौर पर दिल्ली पहुंचने में 72 घंटों का वक़्त लगता है. खतरनाक जल स्तर को लेकर एक अधिसूचना जारी की गई है और संबंधित एजेंसियों को अलर्ट जारी किया गया है. स्थिति पर पैनी नजर रखी जा रही है. सैकड़ों लोग यमुना के किनारे निवास करते हैं और जल स्तर के 'चेतावनी चिन्ह' को छूने के बाद उन्हें सुरक्षित स्थानों पर ले जाया जाएगा.

पेट्रोल-डीजल के दामों में आई भारी गिरावट, जानिए क्या हैं आज के रेट

वित्त मंत्रालय ने बीमा कंपनियों को दिया यह आदेश

RuPay कार्ड अब भूटान में भी मान्य