Royal Enfield पर दर्ज हुआ मुकदमा, इस कंपनी ने लगाया आरोप

Royal Enfield पर दर्ज हुआ मुकदमा, इस कंपनी ने लगाया आरोप

ऑटो पार्ट्स बनाने वाली कंपनी Flesh Electronics India ने देश की दिग्गज मोटरसाइकिल निर्माता कंपनी Royal Enfield के खिलाफ सोमवार को अमेरिकी कोर्ट में मुकदमा दायर किया है. फ्लैश इलेक्ट्रॉनिक्स ने रॉयल एनफील्ड पर ऑटो पार्ट्स के पेटेंट चोरी का आरोप लगाया है. पुणे स्थित कंपनी ने बताया कि वोल्टेज को नियमित करने के उपाय पर रॉयल एनफील्ड ने रेग्युलेटर रेक्टिफायर डिवाइस और इसी से संबंधित पेटेंट का उल्लघंन किया है. आगे जाने पूरा मामला

भारत में TVS की ये शानदार बाइक 28 मई को होगी लॉन्च

कंपनी ने इसके अलावा दावा किया है कि उसके प्रोडक्ट के लिए पेटेंट यूनाइटेड स्टेट पटेंट एंड ट्रेडमार्क ऑफिस (USPTO) ने 20 फरवरी 2018 को जारी किया था. जबकि, इससे पहले उनकी रिसर्च एंड डेवेलपमेंट टीम ने वर्ष 2014 में ही इस उपकरण को तैयार कर लिया था और तभी से ही फ्लैश इलेक्ट्रॉनिक्स इसकी बड़ी मैन्युफैक्चरिंग और सप्लायर बनी हुई है. इतना ही नहीं, भारत समेत कई अंतरराष्ट्रीय कंपनियों को इन्हीं प्रोडक्ट्स की सप्लाई भी करती है. फ्लैश इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया के फाउंडर और मैनेजिंग डायरेक्टर संजीव वासदेव ने कहा, "रॉयल एनफील्ड के तीन बड़े अधिकारियों से इस मामले में कंपनी ने 12 अक्टूबर 2018 को संपर्क साधा और मामले को लेकर बातचीत से सुलझाने की बात भी कही, ताकि इस मामले पर केस दर्ज न हो. लेकिन इस मामले को गंभीरता से रॉयल एनफील्ड ने नहीं लिया।"

अगर गर्मी में बाइक के माइलेज को लेकर है परेशान, अपनाएं ये तरीके

मौजूदा समय में फ्लैश इलेक्ट्रॉनिक्स घरेलू स्तर की बड़ी टू-व्हीलर कंपनियां बजाज ऑटो, यामाहा, जावा मोटरसाइकिल को कलपुर्जों की सप्लाई करती है. वहीं, BRP-Rotax इंटरनेशनल मार्केट में ऑटो पार्ट्स की सप्लाई पोर्शे, BMW, Audi, KTM, कावासाकी, हार्ले-डेविडसन, डुकाटी, ट्रायंफ को करती है.

भारत में 2020 Kawasaki Ninja ZX-10R हुई पेश, ये होगी कीमत

Hero Maestro Edge 125 से Suzuki Access 125 कितनी है बेहतर, जानिए तुलना

Java bikes ने ग्राहको को बनाया दिवाना, जानिए वेटिंग पीरियड