चट्टान गिरने से पांच मजदूरों की दबकर मौत

बुंदेलखंड : उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड इलाके के महोबा में एक खदान में चट्टान गिरने से 5 मजदूरों की दबकर मौत गई। शुक्रवार को गौरा पत्थर के इस खदान में मजदूर 200 फीट नीचे उतरकर काम कर रहे थे। गौरा पत्थर से टेलकम पाउडर और मूर्तियां बनाने का काम होता था।

चरखारी के एसडीएम मोहम्मद रिजवान ने बताया कि 4 मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई जब कि एक ने अस्पताल ले जाने के क्रम में दम तोड़ा। हादसे के बाद ग्रामीणों ने खदान में उतरकर मजदूरों को बाहर निकाला। घायल मजदूरों को महोबा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

हादसे के बाद स्थानीय लोग काफी गुस्से में है। अनहोनी की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की है। कहा जा रहा है कि खदान के भीतर अब भी कई मजदूर दबे हो सकते है। जिन्हें निकालने में प्रशासन जुटा हुआ है।

मज़दूर खदान में काम कर रहे थे तभी पहाड़ तोड़ने के लिए विस्फोट किया गया और इसी से पहाड़ की एक चट्टान इन मज़दूरों के ऊपर गिर गई। घटना के बाद महोबा के ज़िलाधिकारी वीरेश्वर सिंह, पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह समेत तमाम अधिकारी और पुलिस बल मौक़े पर पहुंच गए।

स्थानीय लोगों ने बताया कि तीन दशक से इस गांव में खदान के कारण पूरी तरह से खोखला हो गया। सूखे और पानी की किल्लत झेल रहे बुंदेलखंड में खनन का कारोबार जोर पकड़े हुए है। अवैध खनन पूरे क्षेत्र की समस्या बन गया है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -