पहली बार बने हों विधायक तो नहीं मिलेगा मंत्रालय

पहली बार बने हों विधायक तो नहीं मिलेगा मंत्रालय

जयपुर : राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार ने यह तय किया है कि पहली बार विधायक बने नेताओं को मंत्रालय नहीं दिया जाएगा। इस दौरान यह कहा गया है कि विधायक लालबत्ती का मोह न करें और अच्छा कार्य करें। कार्य अच्छा होगा तो उन्हें आगे लाभ मिलेगा। राजस्थान सरकार द्वारा विधायकों के प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान एक होटल में शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें विधायकों को संबोधित करते हुए कहा गया कि विधायक इस कार्यकाल में लालबत्ती का मोह न दिखाऐं। पहली बार जीतने वाले विधायकों को मंत्री पद नहीं दिया जा सकता, उन्हें अच्छा कार्य करना होगा। प्रदेश में अगले चुनाव में भी भाजपा काबिज हो ऐसा कार्य करें।

 उन्होंने कहा कि लालबत्ती की सभी को जरूरत हो ऐसा नहीं है। लालबत्ती हर किसी को नहीं मिलती है। विधायक अच्छा कार्य करें। यह भी सौभाग्य की बात है कि करोड़ों प्रदेशवासियों में केवल 200 ही विधायक बने हैं और आप उनमें से एक हैं। उल्लेखनीय है कि राजस्थान सरकार के कुछ नेताओं ने लालबत्ती और मंत्रालय की मांग की थी लेकिन विधायक वसुंधरा राजे सिंधिया ने काम को प्राथमिकता दी है। दरअसल राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे चाहती हैं कि पार्टी का प्रभुत्व राज्य में बना रहे और पार्टी काम के कारण जानी जाए जिससे विपक्षियों को किसी तरह का मौका न मिले।