अक्टूबर में चलेगी देश की पहली हाईस्पीड ट्रेन

Aug 30 2015 12:42 PM
अक्टूबर में चलेगी देश की पहली हाईस्पीड ट्रेन

नई दिल्ली : इन दिनों देश में हाईस्पीड ट्रेनें संचालित करने को लेकर कवायदें की जा रही हैं। इसके लिए जापान, चीन और अन्य देशों से संपर्क किया गया है। मगर माना जा रहा है कि जल्द ही देश में पहली तेज रफ्तार अर्थात् हाईस्पीड रेल दिल्ली और आगरा के बीच चलाई जाएगी। माना जा रहा है कि यह रेल सेवा अक्टूबर से प्रारंभ हो सकती है यही नहीं इसके लिए रेल संरक्षा आयुक्त ने ट्रैक निरीक्षण और अन्य औपचारिकताओं को परखने के बाद अपनी स्वीकृति दे दी है। 

मिली जानकारी के अनुसार आरडीएसओ के महानिदेशक पीके श्रीवास्तव ने कहा कि लाईनों और सिग्नल व्यवस्था के मानक के तहत इस ट्रैक को दुरूस्त करने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। यही नहीं दोनों कार्य पूर्ण हो जाने के बाद रेलवे सुरक्षा आयुक्त से क्लियरेंस की बात कही गई। यह भी कहा गया कि इस तरह की हरीझंडी मिलने के साथ ही यह रेल सेवा प्रारंभ हो जाएगा।

हालांकि इसके लिए ट्रेक बिछाने के लिए कुछ समय लग सकता है। इस मामले में यह बात सामने आई है कि इसका अंतिम ट्रायल 110 से 160 किलोमीटर की दूरी के साथ किया गया। इसके पहला परीक्षण वर्ष 2014 को हुआ। इसके बाद तीसरा ट्रायल ट्रेन में 105 मिनट में दूरी तय कर किया गया। सिग्नल और ट्रैक में कमियां रह गई थीं इन्हें दुरूस्त कर दिया गया। देश के इन रूटों में गतिमान एक्सप्रेस संचालित करने की योजना है इससे कानपुर - दिल्ली, चंडीगढ़ - दिल्ली, हैदराबाद - चेन्नई और नागपुर के साथ बिलासपुर और गोवा - मुंबई के साथ नागपुर - सिकन्दराबाद सम्मिलित हैं।

इस ट्रेन 5400 हाॅर्सपाॅवर का इंजन और आधुनिक सुविधाओं से युक्त 12 डिब्बे भी इजाद किए गए हैं। इससे ड्राईवरों को विशेष ट्रेन की सौगात भी दी जाएगी। रेल के डिब्बों की सीट पर टीवी माॅनीटर लगा होगा। साथ ही फायर अलार्म और इमरजेंसी ब्रेक की व्यवस्था भी होगी।