पहले लड़की बनकर की दोस्ती..और फिर

साइबर धोखाधड़ी के विरुद्ध दिल्ली पुलिस के ऑपरेशन ‘क्लीन स्वीप’ के तहत बाहरी जिले के साइबर पुलिस स्टेशन के स्टाफ ने साइबर धोखाधड़ी के एक केस का भंडाफोड़ कर दिया है। पुलिस एक आरोपी व्यक्ति को हिरासत में लिया है, जो एक सेक्सुअल एक्सटॉर्शन में शामिल था। जो पीड़ितों के अश्लील वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल करने के नाम पर पैसे की उगाही करने में लगा हुआ था। आरोपी का नाम गोविंद राम (23) है जो भरतपुर, राजस्थान का रहने वाला है। पुलिस ने उसके कब्जे से 3 मोबाइल फोन भी जब्त कर लिए है।

दरअसल 27 अप्रैल को दिल्ली के पश्चिम विहार के रहने वाले कुशाग्र कठपालिया की शिकायत पर साइबर पुलिस स्टेशन में मुकदमा भी दायर कर  दिया गया। कुशाग्र ने आरोप लगाया कि किसी ने उन्हें उनके WhatsApp नंबर पर संदेश भेजकर एक लड़की के रूप में उनसे बात की थी। इस बीच वार्तालाप वीडियो कॉल पर भी हुई। कुछ दिनों के उपरांत फोन करने वाले ने उसे पीड़िता का स्क्रीन रिकॉर्डेड वीडियो भेजा, जिसमें किसी महिला के साथ उसका बदला हुआ वीडियो था।

अश्लील वीडियो बनाकर करते थे ब्लैकमेल: इस वीडियो में कुछ अश्लील सामग्री थी। जिसके उपरांत कथित व्यक्ति ने वीडियो को सोशल मीडिया पर अपलोड नहीं करने के लिए पैसे की मांग भी कर रहे है। आरोपियों की मांग के मुताबिक, पीड़ित ने उनके खाते में पैसे ट्रांसफर कर दिए। वहीं शिकायत के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर केस की कार्रवाई शुरू कर दी। जांच के दौरान संदिग्ध बैंक खातों और फोन नंबर की पूरी जानकारी हासिल की गई और आरोपी गोविंद राम को भरतपुर राजस्थान से हिरासत में ले लिया गया है।

'मेरा इस्तेमाल किया गया..', 6वीं पास शहीद से लव मैरिज करने वाली बैंक मैनेजर ने की ख़ुदकुशी

लूडो खेलने से किया मना, नहीं माना तो घोंप दिया चाकू

दुर्गा पूजा से लौटते समय नाबालिग का सामूहिक बलात्कार, दो दरिंदे गिरफ्तार

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -