वोटिंग के बीच गोलीबारी, 5 पुलिसकर्मी को किया गया निलंबित

असम में एक अप्रैल को हुए द्वितीय चरण के मतदान के बीच भीड़ पर गोली चलाने के केस में विधानसभा के उपाध्यक्ष अमीनुल हक लश्कर से दूसरी बार पूछताछ की गई। साथ ही उनके पांच अंगरक्षक पुलिसकर्मियों को निलंबित करवाया जा चुका है।

अधिकारियों ने कहा कि 1 अप्रैल को सोनाई निर्वाचन क्षेत्र के बूथ संख्या 463 पर बीजेपी और AIUDF  समर्थकों के मध्य झड़प के उपरांत लश्कर के अंगरक्षकों की गोलीबारी में तीन लोग जख्मी हो गए थे। पुलिस के अनुसार अमीनुल हक से बीते 48 घंटों में दो बार कई घंटों तक पूछताछ के उपरांत उनका बयान दर्ज किया गया। कचार के SP भंवरलाल मीणा ने कहा कि विधानसभा उपाध्यक्ष से जुड़े 9 पुलिसकर्मियों को तुरंत प्रभाव से ड्यूटी से हटा दिया गया है। इनमें से पांच को गोलीबारी की वजह से निलंबित किया गया है।

SP ने बोला  लश्कर चुनाव प्रत्याशी के तौर पर मतदान बूथ पर जा सकते हैं, लेकिन अपने सुरक्षाकर्मियों के साथ बूथ पर नहीं जा सकते। इस दौरान कचार जिले की उपायुक्त कीर्ति जल्ली ने इस घटना के मजिस्ट्रेट ने जांच के आदेश दे दिए हैं भी जारी कर दिए है। धनेहोरी की ग्राम प्रधान लुत्फा बेगम ने बताया कि जब मतदान जारी था, तब लश्कर बूथ पर चले गए, जिसका लोगों ने विरोध किया।

इंडियन आइडल 12 के इस कंटेस्टेंट की चमकेगी किस्मत, दिग्गज कंपोजर आनंद जी देंगे खास नाम

जानिए आखिर क्यों अपनी फिल्मों में सफेद कपड़े-जूते पहनते थे जितेंद्र? वजह है बहुत ही खास

जन्मदिन पर राम गोपाल वर्मा ने उड़ाए फैंस के होश, ट्वीट कर किया दुखी करने वाला पोस्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -