गो-रक्षकों और गोस्तकर के बीच फायरिंग

9 नवम्बर की रात को फर्जी नम्बर की पिकअप में गाय ले जा रहे गोतस्कर और गोरक्षको के बीच देशी कट्टे से फायरिंग हुई, जिसमे एक गोतस्कर की मौके पर ही मौत हो गयी और उसका एक साथी हाथ में दो गोलियाँ लगने से गंभीर रूप से घायल हो गया. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है, सोमवार को मृतक के पोस्टमार्टम की कार्यवाही नहीं हुई.
 
उल्लेखनीय है कि 10 नवंबर को अलवर के रामगढ़ में रेलवे ट्रेक पर 40 वर्षीय उमर खान का शव मिला. पेशे से गोतस्कर मृतक उमर खान एवं उसके साथी ताहिर व जावेद 9 नवम्बर की रात को एक पिकअप में गाय ले जा रहे थे, पिकअप पर नंबर भी बाइक का लगा रखा था. गाय ले जाते समय इनकी गांव गहनकर के पास ग्रामीणों से मुठभेड़ हो गयी और दोनों के बीच देशी कट्टे से कई राउण्ड फायरिंग हुई. गोली लगने से उमर खान की मौत हो गयी और ताहिर खान हाथ में दो गोलियाँ लगने से घटना स्थल पर गिर गया जिसे मृत समझकर ग्रामीणों ने छोड़ दिया.

बता दे कि सोमवार को भी मृतक का एसएमएस मोर्चरी में पोस्टमार्टम नहीं हुआ था, पुलिस इसके लिए कार्यवाही कर रही है. पुलिस ने हमला करने वाले रामवीर गुर्जर व भगवान सिंह उर्फ काला गुर्जर निवासी मारकपुर को गिरफ्तार कर लिया है और उनके अन्य साथियो की तलाश की जा रही है.

गैंगस्टर ने अनोखे तरीके से ली हत्या की जिम्मेदारी

बच्ची का गला घोटा, मरा समझ कचरे में फैक गए माता पिता

प्रद्युम्‍न मर्डर: आरोपी पहले से सीख रहा था हत्या के हथकंडे

 

Most Popular

- Sponsored Advert -