'उद्धव ठाकरे जोरदार तमाचा मार देता' बयान देकर फंसे नारायण राणे, FIR दर्ज

मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करने वाले मामले के चलते केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के खिलाफ पुणे के चतुरश्रिंगी पुलिस थाने में युवा सेना ने FIR दर्ज कराई है। नारायण राणे के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 और 505 के तहत मामला दायर हुआ है। जी दरअसल नारायण राणे ने बीते सोमवार को एक भाषण के दौरान उद्धव ठाकरे को तमाचा मारने के बारे में कहा था।

आप सभी को पता ही होगा कि नारायण राणे ने जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान यह कहा था, 'यह शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री को आजादी के साल के बारे में नहीं पता था। अपने भाषण के दौरान आजादी के वर्ष जानने के लिए उन्हें अपने सहयोगियों की तरफ झुकना पड़ा। मैं वहां होता तो उन्हें जोरदार तमाचा मार देता।' आप सभी को हम यह भी बता दें कि उद्धव ठाकरे अपने 15 अगस्त के भाषण में अटक गए थे और नारायण राणे ने उसी वाक्ये से जोड़ते हुए यह बयान दिया था। जी दरअसल नारायण राणे ने जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान यह बयान दिया था।

आप सभी जानते ही होंगे कि इन दिनों भारतीय जनता पार्टी मोदी कैबिनेट में शामिल हुए नए मंत्रियों के लिए इस यात्रा का आयोजन कर रही है। वहीँ फिलहाल महाराष्ट्र में नारायण राणे के इस बयान के बाद से शिवसेना ने नाराजगी और गुस्सा जाहिर किया है। जी दरअसल नारायण राणे के इस बयान पर रत्नागिरी-सिंधुदुर्ग से शिवसेना के सांसद विनायक राउत ने कहा कि नारायण राणे अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं।

क्या अफगानिस्तान में 'तालिबानी राज' को मिलेगी मान्यता ? G7 के नेता आज करेंगे चर्चा

साण्डर्स को मारकर लिया लाला लाजपत राय की मौत का बदला, छोटी सी उम्र में फांसी चढ़ गए थे 'राजगुरु'

ज्योतिरादित्य सिंधिया का बड़ा एलान, कहा- "एअर इंडिया एक सितंबर से साप्ताहिक..."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -