बैंक प्रमुखों के साथ बैठक में बोलीं वित्त मंत्री सीतारमण- योग्य MSME को लोन दें

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज यानि मंगलवार को सरकारी बैंकों के प्रमुखों के साथ एक अहम् बैठक की. वित्त मंत्री ने बैठक में बैंकों से कहा वे योग्य MSME को ऋण की मंजूरी देने उन तक पहुंच बनाने में जोर दे. निर्मला सीतारमण ने कहा कि बैंकों से कहा कि दूसरे जरूरतमंद बिज़नेस को भी क्रेडिट मुहैया कराने का लक्ष्य रखा जाय. इमरजेंसी क्रेडिट लिंक गारंटी स्कीम के तहत 20 हज़ार करोड़ रुपये के लोन स्वीकृति में तेजी लाई जाए.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इसे बैंकों के ब्रांच स्तर पर असरदार तरीके से लागू किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि इमरजेंसी क्रेडिट लिंक गारंटी स्कीम के लिए फॉर्म सरल न्यूनतम फॉर्मेलिटीज के साथ बैंक की शाखाओं में रखा जाए. निर्मला सीतारमण ने फिक्की के एक कार्यक्रम में कहा था कि कोविड आपातकालीन कर्ज की सुविधा केवल MSME को ही नहीं, बल्कि सभी कंपनियों के लिए है इसका लाभ सभी कंपनियां उठा सकती हैं.

आपको बता दें कि वित्त मंत्रालय ने पिछले सप्ताह बुधवार (3 जून 2020) को बताया था कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने कोरोना वायरस महामारी के चलते देश भर में लगाए गए लॉकडाउन से बुरी तरह प्रभावित MSME सेक्टर को इस महीने के पहले दो दिन में तीन लाख करोड़ रुपये की आपातकालीन ऋण गारंटी योजना के तहत 3,893 करोड़ रुपये का लोन दिया है.

लॉकडाउन में इतना बिका Parle-G का बिस्कुट कि टूट गया 82 सालों का रिकॉर्ड

GST रिटर्न के लिए शुरू हुई शानदार सर्विस, 22 लाख कारोबारियों को मिलेगा लाभ

भारतीय शेयर बाजार ने गंवाई शुरूआती बढ़त, लाल निशान में आए सेंसेक्स-निफ़्टी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -