सेंसर बोर्ड की भूमिका सीमित बोल्ड सीन्स पर नही चलेगी केंची !!

बोल्ड विषय को लेकर बनाने वाली फिल्मो के लिये एक महत्वपूर्ण फैसले ने फिल्म निर्माताओं और दर्शको की बांचे खिला दी है | केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) अब फिल्म के बोल्ड सीन्स को नहीं हटाएंगे। सेंसर बोर्ड ने सीबीएफसी में सुधार के लिए सरकार द्वारा नियुक्त समिति के अध्यक्ष और फिल्म निर्माता श्याम बेनेगल समिति की सिफारिशों को मान लिया है।

अधिक वयस्क सामग्री वाली फिल्मों के लिए एक नई श्रेणी ए/सी बनाई गई है।नई श्रेणी ए/सी आने के बाद से फिल्मों पर सेंसर बोर्ड की भूमिका सीमित हो जाएगी।फिल्मों को यू/ए प्रमाणपत्र देने के लिए भी दो श्रेणी बनाई गई है, जो यू/ए 12 प्लस और यू/ए 15 प्लस हैं। सूत्रों के मुताबिक, सेंसर बोर्ड अब फिल्मों में सीन और डायलॉग पर बिना कैंची चलाए उसे रिलीज करने का प्रमाण पत्र देगी।केंद्र सरकार ने जनवरी में केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड में सुधार के लिए श्याम बेनेगल की अगुवाई वाली एक समिति का गठन किया था।

अभी सिफारिशों को तो मान लिया है अपर सरकार का फैसला आना अभी बाकि है | उम्मीद है सरकार इस विषय पर एहतियात के साथ सकारात्मक निर्णय देगी | मनोरंजन जगत की ऐसी महवत्पूर्ण जानकारियों के लिये देखते रहे न्यूजट्रैक |

प्रेगनेंसी की खबर है अफवाह, बिपाशा ने बतया सच

जब ट्विंकल के बयान से अक्षय हुए शर्म से लाल

'ऐ दिल है मुश्किल' ने की 200 करोड़ रुपये की कमाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -