फीफा: क्रोएशिया की जीत का सबसे बड़ा जश्न होगा गोवा में, ऐसा क्यों?

Jul 14 2018 03:02 PM
फीफा: क्रोएशिया की जीत का सबसे बड़ा जश्न होगा गोवा में, ऐसा क्यों?


पणजी: फुटबॉल विश्वकप का फाइनल क्रोएशिया जीतेगा और उसका जश्न गोवा के एक गांव के लोग मनाएंगे. इस गांव के लोगों का क्रोएशिया से सम्बन्ध जरा पुराना है भाई.  16वीं शताब्दी में क्रोएशिया से कुछ लोग ओल्ड गोवा से लगभग 4 किमी दूर स्थित गंडौलिम में आ कर बस गए थे. वे यहां ज्यादा वक्त के लिए तो नहीं रुके लेकिन कंबर्जुआ कनैल के पास स्थित चर्च ऑफ साओ ब्राज को उन्होंने पुन: स्थापित ककिया और यही काम उनकी यादगार बन गया और वे 200 लोग आज भी इस गांव में सम्मानीय है और क्रोएशिया से इस गांव का नाता भी जिन्दा है. क्रोएशन इंडॉलजिस्ट ड्रवका मिटीसिक ने इस रिश्ते को खोज निकाला जो भारत में संस्कृत पढ़ने आई थीं.
 उन्होंने पाया कि यह चर्च क्रोएशिया की एक भव्य चर्च का छोटा रूप है. चर्च में जाने के रास्ते को टूटा देख लोकनिर्माण विभाग ने उसे तोड़कर नावों के लिए कैनल तक जाने का रास्ता भी बनवाया .

गांव में रहनेवाले ब्राज सिल्वेरिया ने बताया कि जितनी बार क्रोएशिया से जहाज यहां आते हैं, जहाज के नाविक चर्च जरूर आते हैं. क्रोएशिया से 10 साल पहले आईं बाल रोग चिकित्सक डॉ मरीजा रडॉनिक ने वापस जाकर चर्च के लिए डोनेशन जमा करना शुरू कर दिया. सिल्वेरिया ने बताया कि डॉ मरीजा के पास चर्च की मरम्मत से पहले और बाद की तस्वीरें अभी भी रखी हैं.

पिछले साल क्रोएशिया की एक टीम गांव पर डॉक्युमेंट्री फिल्म करने आई थी. गांव के लोग इसे देखने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं क्योंकि इसमें गांव की ऐतिहासिक इमारतों को दिखाया गया है. समय के साथ गांव और क्रोएशिया के बीच संबंध और भी मजबूत हुए हैं. 

प्लेऑफ के लिए बेल्जियम और इंग्लैंड का आज है मैच

यह विश्व कप सर्वश्रेष्ठ रहा- FIFA अध्यक्ष

फीफा: फुटबॉल सनसनी क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंडा का बिकिनी अवतार वायरल

फीफा: जमीन पर सट्टा बाजार से लेकर आसमान तक छाया क्रोएशिया की दीवानगी का वीडियो

 

?