पाकिस्तान पर फीफा का बैन

Oct 12 2017 11:35 AM
पाकिस्तान पर फीफा का बैन

भारत की मेज़बानी में चल रहे फीफा U -17 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम ने अपने प्रदर्शन से हज़ारो लोगों का दिल जीता. लेकिन इसी बीच ख़बरों की माने तो हमारे पडोसी देश पाकिस्तान के मनमाने रवैये को देख पाकिस्तान को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया, और जो फीफा के नियमों के नियमों का उल्लंघन कर रहा था. फीफा हर बार अपने टूर्नामनेट बेहतर बनाने की पूर्ण कोशिश करता है ताकि दर्शको की इसमें दिलचस्पी बनी रहे. फीफा अपने खिलाडियों और दर्शको के बारे में जितना सोचता है, उतना ही वो अपने नियम-कानून को लेकर भी सोचता है. फीफा के नियमो का उल्लंघन करने वालों को फिर आगे इसका खामियाज़ा भी भुगतना पड़ता है.

हाल ही में फीफा ने पाकिस्तान को हर क्षेत्र से बैन कर दिया है. बुधवार को तीसरे पक्ष कि दखलंदाज़ी की वजह से फीफा ने पाकिस्तान फुटबाल फेडरेशन (पीएफएफ) को बर्खास्त कर दिया. फीफा के नियम कायदों के अनुसार कोई भी तीसरा पक्ष या व्यक्ति पीएफएफ के एकाउंट्स और मैनेजमेंट के काम में इंटरफेयर नहीं कर सकता और ऐसा पाए जाने पर उसकी सदस्यता निरस्त कर दी जाएगी.

फीफा ने अपने के बयान में कहा कि, "ब्यूरो ने इस फैक्ट के आधार पर यह फैसला लिया कि पीएफएफ के कार्यालय और खाते कोर्ट द्वारा नियुक्त एक प्रशासक के नियंत्रण में रहेंगे और यह सस्पेंशन तभी वापस लिया जायेगा जब पीएफएफ के कार्यालय और उसके खाते उसे वापस लौटा दिए जाएंगे".

इस सस्पेंशन के चलते पीएफएफ के सभी मेंबर्स के अधिकारों को खत्म कर दिया गया है. जब तब पीएफएफ के रीप्रेसेंटेटिव और क्लब की टीमों का सस्पेंशन ख़त्म नहीं होता तब तक वे किसी भी प्रकार के अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले पाएंगे और न ही अब फीफा या एशियाई फुटबाल परिसंघ (एएफसी) की ओर से चलाए जाने वाले किसी भी विकास कार्यक्रम, शेड्यूल या ट्रेनिंग कोर्स में शामिल नहीं हो पाएंगे.

फीफा अंडर-17 विश्व कप: ब्राजील ने दी उत्तर कोरिया को मात

फीफा अंडर-17 विश्व कप: ईरान, जर्मनी को 4-0 से हराकर नॉकऑउट में पहुंचा

फीफा वर्ल्ड कप से जुड़ी ये बातें आप बिलकुल नहीं जानते होंगे

 

न्यूज़ ट्रैक पर हम आपके लिए लाये है ताज़ा खेल समाचार आपके पसंदीदा खिलाडी के बारे में

 

क्रिकेट से जुडी ताजा खबर हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App