हो चुका है ज्येष्ठ माह आरंभ, जानिए व्रत और त्यौहार

आप सभी को बता दें कि आज से ज्येष्ठ माह आरंभ हो गया है. ऐसे में हिंदू पंचांग के तीसरे महीने के प्रमुख पर्व और त्योहारों की तारीख आज हम आपको बताने जा रहे हैं. आइए जानते हैं.

अपरा एकादशी— आप सभी को बता दें कि अपरा एकादशी 18 मई को पड़ रही हैं पंचांग के मुताबिक ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को अपरा एकादशी और अचला एकादशी कहते हैं.

शनि जयंती— इस साल शनि जयंती का पर्व 22 मई के दिन है और पंचांग के मुताबिक हर साल ज्येष्ठ मास की अमावस्या को शनि जयंती होती है.

वट सावित्री व्रत— वट सावित्री व्रत हिंदू विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए रखती हैं और इस साल वट सावित्री 22 मई को है.

महेश नवमी— महेश नवमी इस बार 31 मई को है. जी दरअसल महेश नवमी हर साल ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मनाते हैं.

गायत्री जयंती— गायंत्री कजयंती का पर्व इस साल 2 जून को पड़ रहा हैं और यह पर्व मां गायत्री का जन्मोत्सव हैं. जी दरअसल मां गायत्री को वेद माता कहते हैं.

निर्जला एकादशी व्रत— जी दरअसल ज्येष्ठ माह में शुक्लपक्ष की एकादशी तिथि को निर्जला एकादशी और भीमसेन एकादशी के रूप में मनाया जाने वाला है.

अगर शरीर के इस अंग पर हो तिल तो लड़कियों को मिलते हैं नौकर-चाकर

घर में ऊपर या नीचे की ओर जा रहीं चींटियां देती हैं यह ख़ास संकेत

भगवान साथ हो तो सुबह-सुबह मिलते हैं यह संकेत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -