सेक्स डॉल्स विवाद को लेकर एफसी सियोल पर हो सकता है केस

कोरिया पेशेवर फुटबाल लीग (के लीग) में हाल ही में एक मैच के दौरान स्टैंड्स को भरने के लिए कथित तौर पर सेक्स डॉल्स का इस्तेमाल करने के बाद के-लीग के क्लब एफसी सियोल पर जुर्माना लग सकता है या प्वाइंट में कटौती हो सकती है. कोरोनावायरस महामारी की वजह से लंबे समय तक बंद रहने के बाद आखिरकार कोरिया पेशेवर फुटबाल लीग (के लीग) के मैच बिना दर्शकों के फिर से शुरू हुए हैं.

17 मई को हुए मैच के दौरान क्लब ने अपने घरेलू मैदान की दर्शक दीर्घाओं को मानवीय पुतलों से भरकर समर्थकों की भारी भीड़ होने का अहसास अपने खिलाड़ियों को देने की कोशिश की. लेकिन यह पाया गया कि इनमें से कई पुतले वास्तव में सेक्स डॉल्स हैं. इनमें से 30 डॉल्स स्टेडियम में थे, जिसमें से 28 महिला और दो पुरुष पुतले थे.

समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, लीग की अनुशाासन समिति अब क्लब पर कार्रवाई कर सकती है. एफसी सियोल के अंकों में न्यूनतम पांच अंकों की कटौती की जा सकती है या फिर कम से कम पचास लाख वोन का जुर्माना लगाया जा सकता है. इस बीच, विवाद को बढ़ता देख क्लब ने इसके लिए सोशल मीडिया पर माफी मांगी है. एफसी सियोल ने इंस्टाग्राम पर एक बयान में कहा, " हम अपने फैंस से माफी मांगते हैं. हमें बेहद खेद है. हमारा इरादा इस कठिन समय में दिल हल्का करने के लिए कुछ करने का था. हम इस बात पर पूरा विचार करेंगे कि ऐसी चीजें दोबारा नहीं होने देना सुनिश्चित करने के लिए हमें क्या करने की जरूरत है."

आखिर क्यों नहीं कर पाएंगे रोहित और रहाणे क्रिकेट की प्रैक्टिस

बेहद ही दिलचस्प है इस क्रिकेटर की लाइफ जर्नी

गीनो हर्नांडेज़ की पत्नी ने बयां किया हादसे का दर्द

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -