मुस्लिम योग टीचर के खिलाफ फतवा जारी

रांची. योग को धर्म से जोड़कर देखने वाले कट्टरपंथियों ने मुस्लिम योग शिक्षिका राफिया नाज़ के खिलाफ फतवा जारी कर जान से मारने धमकी दी है. दूसरी ओर उसे समाज के अन्य वर्गों से प्रोत्साहन मिल रहा है.

योग गुरु रामदेव के साथ तस्वीर वायरल होने के बाद सुर्खियों में आई रांची की महिला योग शिक्षिका राफिया नाज़ के विरुद्ध कट्टरपंथियों ने हमला बोल दिया. बुधवार रात राफिया के घर पत्थरबाजी की गई, इससे वह और उनका परिवार दहशत में आ गया था. जिसके बाद मुख्यमंत्री ने संज्ञान लेकर सुरक्षा मुहैया कराई और उसके घर व आसपास के इलाकों में पुलिस गश्त बढ़ा दी गई. गुरुवार को उसके घर विभिन्न राजनितिक और सामजिक संगठनो का आना-जाना लगा रहा. 

राफिया ने कहा कि उसे समाज के विभिन्न वर्गों और संगठनों के लोग घर आकर योग सिखाने को प्रोत्साहित कर रहे हैं और किसी भी परिस्थिति में साथ खड़े होने का वादा कर रहे हैं. कहा जा रहा है कि राफिया को राजनितिक पार्टी से जुड़ने के प्रस्ताव मिल रहे हैं. हालांकि, राफिया ने राजनीति में जाने से इंकार करते हुए कहा है कि उसका लक्ष्य नेता बनना नहीं,  एक कुशल प्रोफेसर बनकर अनाथ बच्चों की मदद करना है. योग सिखाने के पीछे भी उसका लक्ष्य अनाथ बच्चों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने और मंच देने का है.

 

दिल्‍ली सरकार के ऑड-ईवन फॉर्मुला पर NGT ने उठाए सवाल

लंदन के ‘बिग स्मॉग’ से सबक सीखे भारत

जजों के नाम पर रिश्वत लेने का मामला संविधान पीठ के पास भेजा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -