ISIS के चंगुल से फादर टाॅम मुक्त

नई दिल्ली। इस्लामिक स्टेट आॅफ इराक की कैद से केरल के एक ईसाई धर्मगुरू फादर टाॅम उजुन्नलिल को छुड़वा लिया गया है। आईएसआईएस ने उन्हें करीब 18 माह पूर्व बंधक बनाया था। फादर की रिहाई को लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्विटर पर जानकारी दी, जिसमें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बताया कि आखिर किस तरह से फादर टाॅम को आईएसआईएस की कैद से छुड़वाया गया।

फादर को मुक्त करवाने के बाद ओमान ले जाया गया है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर जानकारी दी और लिखा कि ओमान सरकार की मदद से फादर टाॅम को छुड़वाया गया। वेटिकन सरकार के एक कर्मचारी को भी आईएसआईएस के चंगुल से छुड़वा लिया गया। इस कार्रवाई के लिए वेटिकन ने अपील की थी, साथ ही बादशाह सुल्तान काबूस बिन सईद ने आदेश दिया था।

कर्मचारी को छुड़वाने के बाद उन्हें मस्कट के लिए रवाना कर दिया गया। ईसाई धर्मगुरू फादर टाॅम को छुड़वाए जाने पर केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने प्रसन्नता जाहिर की है। उन्होंने सोशल मीडिया में इस मामले को लेकर जानकारी दी। फेसबुक पर उन्होंने पोस्ट किया और कहा कि यह बेहद अच्छी बात है। उन्होंने ओमान सरकार का धन्यवाद ज्ञापित किया।

गौरतलब है कि आईएस के आतंकवादी मार्च 2016 मेें अदन में मिशनरीज ऑफ चैरिटी के एक वृद्धाश्रम में एक व्यक्ति के रिश्तेदार बनकर घुस गए थे, अंदर जाकर आतंकवादियों ने अंधाधुंध गोलीबारी की, जिसमें चार भारतीय नन सहित कुल 16 लोग मारे गए थे. फादर टॉम उस समय वहां पादरी के तौर पर नियुक्त थे, और आतंकवादियों ने उन्हें बंधक बना लिया था।

बगदाद में कार बम विस्फोट में 9 लोगों की मौत

ताल अफार को ISIS के चंगुल से करवाया मुक्त

ISIS के कमांडर्स पर आसमान से बरसी मौत

तल अफार में सेना ने किया आईएसआईएस पर हमला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -