किसान पर पड़ रही चौतरफा मार- राहुल गांधी

Apr 29 2015 12:26 PM
किसान पर पड़ रही चौतरफा मार- राहुल गांधी

नई दिल्ली : किसान मंडियों में रो रहे हैं और हरियाणा के मुख्यमंत्री कहते हैं कि जो किसान रो रहे हैं आत्महत्या कर रहे हैं वे कायर हैं। जब किसान की फसल पर पाला पड़ा उसने सह लिया। उसे पर्याप्त खाद नहीं मिला उसने सहन कर लिया लेकिन अब मंडियों में भी किसान को चैन नहीं मिल रहा है। यह बात कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज संसद में कही। राहुल हाल ही में पंजाब में किए गए अपने दौरे के बाद दिल्ली वापस आने पर लोकसभा में चर्चा कर रहे थे।

लोकसभा में किसान हित का मुद्दा उठाते हुए उन्होंने कहा कि क्या किसान मेक इन इंडिया नहीं बनाता है। उन्होंने कहा कि किसान को ओले से जो नुकसान हुआ है उसके लिए मुआवज़ा दिया जाना चाहिए साथ ही सरकार को मंडियों में बेकार पड़ा और बर्बाद हो रहा अनाज ले लेना चाहिए। इससे सरकार का लाभ होगा। इस पर राजग की सांसद हरमीत कौर बादल ने सवाल किए कि जिस पंजाब में सांसद राहुल गांधी ने अपना दौरा किया वे उस समय कहां थे जब वहां ओलावृष्टि हो रही थी।

उन्हें आज किसानों का दर्द नज़र आ रहा है लेकिन पहले तो उनकी सरकार थी। किसान को पहले अधिक परेशानी थी। कांग्रेस द्वारा राजग सरकार को बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के वक्तव्य के बाद सदन में जमकर हंगामा हुआ। इसके बाद सदन में जवाब देने पहुंची सांसद हरमीत कौर बादल को जवाब देने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

इसके बाद केंद्रीयमंत्री रामविलास पासवाल जवाब देने खड़े हुए लेकिन सदन में देर तक हंगामा होता रहा और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को बोलने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा। केंद्रीय मंत्री श्री पासवान ने कहा कि एनडीए सरकार और प्रधानमंत्री श्री मोदी किसानों की स्थिति पर परेशान हैं। किसान की फसल का एक एक दाना सरकार ले रही है। किसान की आर्थिक हालत सुधारने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। किसान को सरकार ने पहली बार ओला वृष्टि के चलते ऋण भुगतान में छूट दी गई है। सरकार ने ओलावृष्टि से प्रभावित किसान को दूसरे तरह से भी राहत दी है। सरकार किसानों को दूसरी तरह से भी छूट दे रही है।