'लखीमपुर हिंसा पूर्वनियोजित साजिश का हिस्सा...', किसान नेता ने दिया बड़ा बयान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच टकराव के बाद भड़की हिंसक घटना में आठ लोगों की मौत से पूरे देश में सियासी पारा गर्म है. अब किसान नेता दर्शन पाल ने लखीमपुर हिंसा को सोची-समझी और पूर्वनियोजित साजिश करार दिया है. उन्होंने एक बयान में कहा कि लखीमपुर खीरी घटना पूर्वनियोजित साजिश का हिस्सा है. हमलावरों ने किसानों को आतंकित करने का प्रयास किया है.

दर्शन पाल ने आगे कहा कि सरकार लखीमपुर खीरी के दोषियों को बचाने के लिए पूरी जान झोंक रही है. ये सरकार का बेहद गलत रवैया है. इससे किसानों में सरकार के प्रति काफी आक्रोश है. उन्होंने बताया कि अब किसान और अधिक इंतजार नहीं कर सकते. इस बैठक में घटना के लिए जिम्मेदार केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्र को त्यागपत्र देने और उनके बेटे सहित अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सरकार पर दबाव डाला जाएगा.

दर्शन पाल ने बताया कि आगामी 12 अक्टूबर को शहीद किसान दिवस मनाया जाएगा. SKM ने उत्तर प्रदेश के साथ ही पूरे देश के किसानों से लखीमपुर खीरी किसान हत्याकांड में मारे गए 5 किसानों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए अपने घरों के आगे 5 मोमबत्तियां जलाकर उनके बलिदान को याद करने की अपील की है. सरकार पर दबाव बनाने के लिए 18 अक्टूबर को पूरे देश में अखिल भारतीय रेल रोको आंदोलन चलाया जाएगा. यह आंदोलन सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक चलेगा.

जम्मू सरकार ने हवाईअड्डा विस्तार के लिए भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को हस्तांतरित की जमीन

केरल के मुख्यमंत्री ने सबरीमाला हवाईअड्डे को समयबद्ध तरीके से पूरा करने का किया वादा

कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री ने पीएचसी के उन्नयन के लिए अतिरिक्त केंद्रीय धन की मांग की

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -