'मुझे बस उल्टी आनी बाकी थी', अपने गाने के रीमिक्स वर्जन को सुन बोलीं फाल्गुनी पाठक

90s के सुपर डुपर हिट ट्रैक 'मैंने पायल है छनकाई' के रीमिक्स वर्जन 'ओ सजना' को रिलीज कर नेहा कक्कड़ काफी समय से सुर्ख़ियों में हैं और उन्हें जबरदस्त ट्रोल किया जा रहा है। अधिकतर लोगों का कहना है कि नेहा कक्कड़ को ऐसा नहीं करना चाहिए था। केवल यूजर्स ही नहीं बल्कि गाने की ओरिजनल सिंगर फाल्गुनी पाठक भी नाराज हैं। इन सभी के बीच अब फाल्गुनी पाठक ने अब एक बार फिर नेहा कक्कड़ पर निशाना साधा है। जी दरअसल फाल्गुनी पाठक इस बात से खुश हैं कि लोग आज भी उनके ओरिजनल गाने को ज्यादा पसंद कर रहे हैं और नेहा कक्कड़ के रीमिक्स वर्जन को नहीं।

एक मशहूर वेबसाइट से बातचीत में फाल्गुनी पाठक ने कहा- ''कई सारे लोग सोशल मीडिया पर मुझे लिख रहे हैं कि उन्हें मेरा म्यूजिक ज्यादा पसंद है। लोगों का ऐसा रिएक्शन देख मुझे खुशी हुई। यूजर्स ने ये भी कहा कि उन्हें नेहा कक्कड़ का वर्जन पसंद नहीं आया।'' वहीं बीते दिनों नेहा पर केस करने के बारे में फाल्गुनी पाठक ने कहा था कि, 'उस समय मैं म्यूजिक राइट्स का अधिकार लेने का महत्व नहीं जानती थी। अगर मैंने ऐसा किया होता तो मैं ऐसे रीक्रिएशन बनने पर रोक लगा सकती थी। काश मैं उस वक्त इन सभी चीजों को लेकर जागरुक होती। जब खुद पर गुजरती है तब पता चलता है। मुझे पछतावा है कि मैं म्यूजिक राइट्स को लेने के बारे में तब नहीं जानती थी। वरना मैं निश्चित रूप से इसके बारे में कुछ करती।'

इसी के साथ फाल्गुनी पाठक ने बताया कि वे रीक्रिएशन के खिलाफ नहीं हैं। मगर उन्हें लगता है कि जो कोई भी रीक्रिएटेड वर्जन पर काम करता है, उसे सिर्फ गाने की सक्सेस के बारे में ही नहीं सोचना चाहिए। उस शख्स में म्यूजिक के प्रति जुनून होना चाहिए। उसे गाने पर पूरे दिल से काम करना चाहिए। इसके अलावा फाल्गुनी ने कहा था- 'रीमेक गाने से मुझे कोई गुरेज नहीं है। ऐसा लंबे समय से होता आया है कि गानों के रीमेक बने हैं। मगर इसे पैशन के साथ किया जाना चाहिए।'

वहीं एक दूसरे इंटरव्यू में फाल्गुनी पाठक ने नेहा कक्कड़ के रीमिक्स वर्जन पर कमेंट करते हुए कहा था- ''मुझे रीमिक्स वर्जन के बारे में 3-4 दिन पहले पता चला था। पहला रिएक्शन अच्छा तो नहीं था। मुझे बस उल्टी आनी बाकी थी, ऐसा हो गया था। वीडियो और पिक्चराइजेशन में जो मासूमियत थी, उसका पूरा सत्यानाश कर दिया है इस गाने में। रीमिक्स किए जा रहे हैं, लेकिन उसको डिसेंट तरीके से करें। आप अगर यंग जनरेशन तक पहुंचना चाहते हैं, तो गाने की रिधम बदल दीजिए, लेकिन इसे चीप न बनाएं। गाने की जो ऑरिजनैलिटी है, फीलिंग्स हैं, एसेंस है।।।इनोसेंस है उसको बरकरार रखिए, गाने की ओरिजिनैलिटी को खत्म ना करें।'

कहाँ स्थित है माता रानी का शिवानी शक्तिपीठ, जानिए इसके बारे में

श्री कृष्ण को पाने के लिए राधा रानी ने की थी कात्यायनी पीठ की पूजा

बहुत खास होगी यह नवरात्रि, मुख्यमंत्री खुद मां को अर्पित करेंगे एक किलोमीटर लंबी चुनरी

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -