महाकाल मन्दिर में दानदाताओं को दी जायेगी सुविधा

उज्जैन । श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबन्ध समिति द्वारा अब मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं और दानदाताओं को विभिन्न सुविधा मुहैया कराने के उद्देश्य से अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देशित किया गया है।

गौरतलब है कि, श्री महाकालेश्वर मंदिर में प्रतिदिन हजारोें श्रद्धालु दर्शन हेतु आते है। मंदिर में स्वर्ण शिखर योजना, गर्भगृह को रजत मंडित करने, नगद राशि दान, अन्नक्षेत्र में खाद्य सामग्री या मंदिर में उपयोग में आने वाली सामग्री जैसे एल.ई.डी. टी.व्ही., वाटर कूलर, मेटिंग, इलेक्ट्रानिक वस्तुए, निर्माण कार्य आदि की सुविधाओं में भी भक्तों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। 

श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबन्ध समिति के प्रशासक श्री एस.एस.रावत ने जानकारी देते हुए बताया कि, मंदिर का विकास दान से होता हैं और दानदाताओं की सुविधा का ध्यान रखने हेतु मंदिर समिति कटिबद्ध है। मंदिर में सहयोग देने वाले दानदाताओं हेतु मंदिर द्वारा एक वर्ष हेतु विभिन्न सुविधाएॅ दी जावेगी, जो निम्नानुसार हैः-

क्र.    दानदाता द्वारा दी जाने वाली राशि    विवरण    दर्शनार्थियों की संख्या    पैकेज सिर्फ एक वर्ष के लिए है
1    रूपये 25 हजार से 50 हजार तक    नगद राशि, चेक या सामग्री    1$1    लड्डू प्रसाद, दुपट्टा, भस्मार्ती भोजन प्रसाद और प्रमाण पत्र
2    रूपये 50 हजार से 1 लाख तक    नगद राशि, चेक या सामग्री    1$2    लड्डू प्रसाद, दुपट्टा, भस्मार्ती, फोटो, भोजन प्रसाद और प्रमाण पत्र
3    रूपये 1 लाख से 1,50 लाख तक    नगद राशि, चेक या सामग्री    1$3    लड्डू प्रसाद, दुपट्टा, भस्मार्ती, फोटो, एक कक्ष आवास, भोजन प्रसाद और प्रमाण पत्र
4    रूपये 1.50 लाख या उससे अधिक का दान देने पर    नगद राशि, चेक या सामग्री    1$4    लड्डू प्रसाद, दुपट्टा, भस्मार्ती, फोटो, चाॅदी का सिक्का, दो कक्ष आवास, उज्जैन आने पर परिवहन, भोजन प्रसाद और प्रमाण पत्र

दानदाता मंदिर के विकास में भागीदार बने इस हेतु दानदाता को  श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबन्ध समिति द्वारा पैकेज के रूप में सुविधाए दी जा रही है। आवास सुविधा हेतु दानदाता को मंदिर समिति को एक माह पूर्व सूचित करना होगा। यदि तत्काल व्यवस्था की आवश्यकता होगी तो उपलब्धता के आधार पर अतिथि कक्ष उपलब्ध कराया जायेगा। अतिथि कक्ष उपलब्ध नही होने की दशा में मंदिर समिति द्वारा होटल क्षिप्रा या अवन्तिका में भी रूकने की व्यवस्था करवाई जायेगी। 

स्थाई रूप से पूछताछ केन्द्र खोलने पर विचार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -