मार्क जुकरबर्ग ने स्वीकार किया फेसबुक हैक कर चुराए गए एक्सेस टोकन

tyle="text-align: justify;">सैनफ्रांसिस्को: हैकरों से निर्भीक होने का दावा करने वाली सोशल मीडिया साईट फेसबुक ने यह बात स्वीकार की है कि हैकरों द्वारा सिक्योरिटी रीज़न में छेड़छाड़ की गई है. जिसके कारण लगभग पांच करोड़ फेसबुक यूज़र्स के अकॉउंट प्रभावित हुए हैं.

व्हाट्सएप के बाद इंस्टाग्राम ने भी छोड़ा फेसबुक का साथ



फेसबुक अधिकारी से मिली जानकारी के अनुसार हैकरों ने इसी सप्ताह में वेबसाइट को हैक कर 'एक्सेस टोकन' की चोरी कर लिए हैं, जिसकी वजह से लगभग पांच करोड़ यूजर्स इससे प्रभावित हुए हैं. यह एक्सेस टोकन एक प्रकार की कुंजी है, जो डिजिटल ताले को खोलने यानि सॉफ्टवेर के भीतर तक पहुंचाने में मदद करती हैं. जहां से किसी भी अकाउंट से हर प्रकार की जानकारी प्राप्त की जा सकती है. फेसबुक के मैनेजर टीम के सबहेड गे. रोसेन ने कहा है कि, हमें बड़ा अफ़सोस है कि हमलावर (हैकर) ने फेसबुक की सुरक्षा दीवार को भेद लिया है. वहीं मार्क जुकेरबर्ग ने कहा कि जो हुआ था अब वह ठीक हो चुका है अब चिंता की कोई बात नहीं है. उन्होने बताया कि अभी तक यह तो नहीं पता चला है कि किस के एकाउंट्स का गलत इस्तेमाल या डाटा चोरी का शिकार बनाया गया है.

हर दिन 30 करोड़ लोग कर रहे इस्तेमाल, कहीं आप अनजान तो नही FACEBOOK के इस नए फीचर से



फेसबुक ने कुछ से पहले यह बात कही थी कि थर्ड पार्टी एप ने फेसबुक से लाखों उपयोगकर्ताओं की जानकारी और डाटा चोरी की है, जिसके चलते 'माई पर्सनालिटी' एप को प्रतिबंधित कर दिया है. फेसबुक के अनुसार जिन लोगों ने इस 'माई पर्सनालिटी' एप पर अपनी जानकारी शेयर की थी उनके साथ ही यह दुर्घटना घाटी है, जिनकी तादात लगभग 40 लाख है. उनके साथ जुड़े खाते भी इसकी जद में आते है.

ख़बरें और भी ​

कब्रिस्तान बना FACEBOOK , 3 करोड़ लोग पाए गए मृत

GOOGLE के इस बड़े कदम से अब सर्चिंग हो जाएगी और भी आसान

हॉटस्टार के सीईओ अब संभालेंगे फेसबुक की कमान, फर्जी खबरों पर ले सकते है कड़े फैसले

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -