चीनी इंटरनेट रेग्यूलेशन के प्रति जुकरबर्ग ने जाहिर की चिंता

दिग्गज सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक  के सीईओ मार्क जुकरबर्ग  ने चीनी इंटरनेट रेग्यूलेशन को लेकर चिंता जाहिर की है। साथ ही मार्क जुकरबर्ग ने चीनी मॉडल को न सिर्फ फॉलो करने बल्कि उसे बदलने की सलाह दी है। वहीं, मार्क ने यूरोपीय संघ के अधिकारी Thierry Breton के साथ लाइव वीडियो कॉल करने के दौरान कहा है कि मुझे लगता है चीन के मुकाबले पश्चिमी देश ज्यादा लोकतांत्रिक हैं। उन्होंने आगे कहा है कि इसकी छवि इंटरनेट को लेकर अपनाए जाने वाले रेग्यूलेशन में भी झलकती है।  

मार्क जुकरबर्ग ने दी सलाह
मार्क जुकरबर्ग ने सभी देशों को चीनी इंटरनेट मॉडल को न अपनाने की सलाह दी है। साथ ही उनका मानना है कि सभी देशों को चीन के इंटरनेट रेग्यूलेशन का बहिष्कार करना चाहिए और इंटरनेट के प्रति लोकतांत्रिक रुख अपनाना चाहिए। आपको बता दें कि फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने इससे पहले भी चीन की पॉलिसी की आलोचना की थी। 

2019 में मार्क जुकरबर्ग ने की आलोचना
मार्क जुकरबर्ग ने 2019 में हॉन्ग-कॉन्ग में चल रहे विरोध प्रदर्शन को टिक-टॉक पर न दिखाए जाने को लेकर चीन की आलोचना की थी। मार्क ने कहा था कि सरकार और कंपनियों के बीच तालमेल बना रहना बेहद जरूरी है।

Facebook की इंटरनेट पॉलिसी को लेकर हुआ था विवाद
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फेसबुक के महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट Internet.org को लेकर इसलिए विवाद हुआ था, क्योंकि इस प्रोजेक्ट ने नेट न्यूट्रैलिटी के सिद्धांत का उल्लंघन किया था। आलोचकों का कहना था कि फेसबुक के इस प्रोजेक्ट से गरीब और पिछड़े हुए क्षेत्रों में यह धारणा बन जाएगी कि इंटरनेट का मतलब फेसबुक है।

कनाडा में फेसबुक पर लगा लाखों का जुर्माना, जानिये क्या है मामला

iQoo Z1 5G स्मार्टफोन चीन में हुआ लांच

जल्द लांच होगा शाओमी का लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम MIUI 12

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -