नीमच में भी धमाका: पति-पत्नी की दर्दनाक मौत, मामला संदिग्ध

नीमच। जिस प्रकार मध्यप्रदेश झाबुआ के पेटलावद में विस्फोट के कारण इसमें 94 लोगो की मौत हो गई थी. वह हादसा अभी लोगो के जहन से हटा भी नही था की इसी तरह का एक और धमाका नीमच के सिंगोली में भी हुआ है. जिसमे दो लोगो की मौत हो गई सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नीमच जिले से करीब 80 किलोमीटर दूर पीपरवा गांव में एक मकान में शुक्रवार देर रात ब्लास्ट होने से एक दंपती की मौत हो गई। व यह धमाका इतना भयावह था की इसमें पति व पत्नी के चीथड़े ही उड़ गए. इसमें पति का सिर करीब 45 फीट दूर पड़ा मिला व पत्नी का सिर छत पर पड़ा हुआ था.

पुलिस ने अपनी जानकारी में कहा है की यह हादसा घरेलू स्टोव से हुआ है. परन्तु नंदकुमारन जो की कलेक्टर है उन्होंने कहा है की यह धमाका बहुत बड़ा था व ब्लास्ट की तीव्रता को देखते हुए मकान में विस्फोटक सामग्री रखे होने से इनकार नहीं किया जा सकता है, कहा की हमने इस विस्फोट पर आशंका है व इसकी जाँच के लिए हमने बीडीएस और एफएसएल की टीम रवाना कर दी है. वहां के रहने वाले स्थानीय लोगो ने पुलिस को बताया की मृतक उदयलाल अपनी पत्नी नर्मदा बाई के साथ पीपरवा गांव के इस मकान में रहता था। व रात को करीब एक बजे के दरमियान जब हम गहरी नींद में थे तो हमे एक जोरदार ब्लास्ट की आवाज आई। 

जब हम लोगो ने बाहर आकर देखा तो धमाका  उदयलाल के मकान में हुआ था. व इस धमाके में उदयलाल व उसकी पत्नी का सिर घर से करीब 45 फीट दूर बाहर पड़ा मिला व पत्नी का सिर छत पर पाया गया. सिंगोली टीआई ने कहा कि प्रारंभिक जानकारी के अनुसार यह बात सामने आई है कि स्टोव फटने से यह हादसा हुआ है, तो वही नीमच कलेक्टर नंदकुमारन ने स्वीकार किया कि घरेलू स्टोव से इतना बड़ा ब्लास्ट होना संदिग्ध है व कहा की यह ब्लास्ट डिटोनेटर के कारण भी हो सकता है. व यह भी पता चला है की उदयलाल ने दूसरा विवाह किया था. हम इस पर गहनता से जाँच करवा रहे है व एफएसएल टीम जाँच करेगी की मृतकों के शरीर पर कहीं कोई केमिकल तो नहीं था.   

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -