इटली में लॉकडाउन से छूट देना सरकार को पड़ गया भारी

रोम: बीते कई दिनों से लगातार बढ़ता जा रहा कोरोना का कहर मासूम लोगों की जान का दुश्मन  बन चुका है, हर दिन इस वायरस के कारण दुनियाभर में हजारों मौते हो रही है. वहीं लगातार संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रह है, इतना ही नहीं अब तो कोरोना वायरस ने एक महामारी का रूप भी ले लिए है जिसके बाद से लोगों के घरों में खाने की किल्लत बढ़ती ही जा रही है न जाने इस वायरस के कारण और ऐसी कितनी मासूम जिंदगियां है जो तबाही के कगार पर आ चुकी है. वहीं अब तक दुनियाभर में मौत का आंकड़ा 2 लाख 17  हजार के पार हो चुका है और अभी भी इस वायरस का कोई तोड़ नहीं मिल पाया है.

लोगों का यह व्‍यवहार बढ़ा रहा मुश्किलें: इटली में पाबंदियों से छूट की पूर्व संध्या पर एक ही दिन में 174 और लोगों की संक्रमण से मौत हो गई. समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक, दक्षिणी कैलिफोर्निया के समुद्र तटों पर लोगों की भारी भीड़ नजर आई. अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से भी खतरनाक संकेत मिले जहां बिना किसी पूर्व सूचना के की गई 500 लोगों की जांच में से एक तिहाई संक्रमित मिले हैं. अमेरिका के न्यू जर्सी में राजकीय उद्यानों को खोला गया जिसके बाद देखते ही देखते पार्किंग स्थल के 50 फीसद भर गया. नतीजतन प्रशासन को लोगों को वापस भेजना पड़ा.

दुविधा में अमेरिका और ब्रिटेन: व्हाइट हाउस की कोरोना वायरस समन्वयक डेबोरा बिर्क्स ने कहा कि अमेरिका में बिना मास्क के सैकड़ों लोगों की ओर से पाबंदियों को वापस लेने और अर्थव्यवस्था को पूरी तरह सक्रिय करने की मांग वाले प्रदर्शनों ने चिंताजनक हालात पैदा किए हैं. ब्रिटेन में प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन पर यह बताने का दबाव बढ़ रहा है कि वह देश में बंद को कैसे हटाएंगे. जबकि प्रतिबंधों के बीच भी देश में रोजाना कोरोन से अब भी सैकड़ों लोगों की जान जा रही है. ऐसे में बड़ा सवाल यह कि ब्रिटेन प्रतिबंधों से ढील को अमली जामा कैसे पहनाएगा. 

CORONAVIRUS: चीन में बढ़ी परेशानी, बिना लक्षण वाले मिल रहे कोरोना संक्रमित

विश्व अस्थमा दिवस: कहीं आपको भी सांस लेने में तकलीफ तो नहीं ?

कोरोना: दाढ़ी नहीं काटी तो सिख डॉक्टर को ड्यूटी से हटाया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -