इंटरनेट डाउन होने से हर बार होता है करोड़ों का नुकसान, इस मामले में भारत है तीसरे स्थान पर

विश्व के तमाम देशों में इंटरनेट को बंद कर दिया गया था। कई बार सुरक्षा कारणों से इंटरनेट को सरकार बंद  कर देती है और कई बार किसी तकनीकी समस्या की वजह से इंटरनेट शटडाउन कर दिया जाता है। प्रत्येक वर्ष के अंत में उस वर्ष इंटरनेट शटडाउन की रिपोर्ट्स को पेश किया जाता है। अब 2021 की भी रिपोर्ट आ चुकी है। वर्ष 2021 में 2020 के मुकाबले 36 प्रतिशत ज्यादा इंटरनेट शटडाउन हो चुके है। वर्ष  2021 में पूरी विश्व में कुल 30,000 घंटे इंटरनेट बंद हुआ है जिससे 5.45 बिलियन डॉलर यानी तकरीबन  40,300 करोड़ रुपये का हानि हुई है। 

2021 में भारत में 1,157 घंटे बंद रहा इंटरनेट: हम बता दें कि जिन देशों को इंटरनेट शटडाउन से सबसे हानि हुई है, उस लिस्ट में इंडिया तीसरे नंबर पर है। इंडिया में वर्ष 2021 में 1,157 घंटे इंटरनेट बंद रहा है इससे 582.8 मिलियन डॉलर यानी तकरीबन 4,300 करोड़ रुपये की हानि हुई है। इसकी सूचना वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (VPN) आधारित वेबसाइट Top10VPN की रिपोर्ट से मिल रहा है। इंडिया में इंटरनेट बंद होने से 5.9 करोड़ लोग प्रभावित हो चुके है। देश की राजधानी नई दिल्ली में किसान आंदोलन के दौरान लंबा इंटरनेट बंद हो गया था।

इंटरनेट बंद करने में म्यांमार पहले नंबर पर: वर्ष 2021 में इंटरनेट शटडाउन से  तकरीबन 48 करोड़ लोग पूरे विश्व में प्रभावित हुए हैं। सालाना स्तर पर इसमें 80 फीसदी का वृद्धि देखने को मिली है। वर्ष 2021 में 21 देशों में 50 प्रमुख इंटरनेट आउटेज हुए हैं जिनमें 75 प्रतिशत इंटरनेट आउटेज सरकारों ने कर दिया है। इंटरनेट बंद करने में म्यांमार पहले नंबर पर आ चुका है। यहां 2021 में इंटरनेट के बंद होने से 2.8 बिलियन डॉलर यानी करीब 20,700 करोड़ रुपये की हानि हुई है और 2.2 करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं। दूसरे नंबर पर नाइजीरिया है, जहां 10.4 करोड़ प्रभावित हुए हैं और करीब 11,100 करोड़ रुपये की हानि हुई  है।

भारत में लॉन्च की गई VIVO की Y सीरीज, जानिए क्या है इसकी खासियत

आज अमेज़न पर खेलें ये गेम और जीते 30 हजार तक का आकर्षक इनाम

Google को भा गया किराए का ऑफिस, अब इतने में खरीदेगी कंपनी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -