बप्पा के इन मंत्रों से दूर होगी हर बाधा, राशिनुसार करें जाप

सनातन धर्म में हर दिन किसी न किसी देवी एवं देवता की पूजा के लिए तय है. वही बुधवार (Budhwar) के दिन विघ्नहर्ता श्री गणेश जी की पूजा करने का विधान है. प्रथम पूज्य गणपति की कृपा से व्यक्ति के बिगड़े काम भी बन जाते हैं, मनोकामनाएं पूरी होती हैं तथा जीवन में शुभता बढ़ती है. बुधवार के दिन गणेश जी के मंत्रों का जाप प्रभावी माना जाता है. वैसे तो आप गणेश जी के बीज मंत्र ‘गं’ का जाप करके अपने अभिष्ट कार्य की सिद्धि कर सकते हैं, मगर राशि अनुसार गणेश जी के मंत्रों का जाप करने से इच्छा पूर्ण होती है तथा संकट दूर होते हैं. 

राशि अनुसार गणेश मंत्र:-

मेष:- ‘ओम वक्रतुण्डाय हूं’ या ‘गं’ मंत्र का जाप कर सकते हैं।

वृष: ‘ओम हीं ग्रीं हीं’ या ‘गं’ मंत्र का जाप कर सकते हैं।

मिथुन: ‘ओम गं गणपतये नमः’ या ‘श्रीगणेशाय नम:’ का जाप कर सकते हैं।

कर्क: ‘ओम वक्रतुण्डाय हूं’ या ‘ओम वरदाय नम:’ का जाप कर सकते हैं।

सिंह: ‘ओम सुमंगलाये नम:’ मंत्र का जाप करना चाहिए. 

कन्या: ‘ओम चिंतामण्ये नम:’ मंत्र का जाप करना चाहिए.

तुला:  ‘ओम वक्रतुण्डाय नम: मंत्र का जाप करना चाहिए.

वृश्चिक: ‘ओम नमो भगवते गजाननाय’ मंत्र का जाप करना चाहिए.

धनु: ‘ओम गं गणपते मंत्र’ का जाप करना चाहिए. 

मकर: ‘ओम गं नम:’ मंत्र का जाप करना चाहिए. 

कुंभ: ‘ओम गण मुक्तये फट्’ मंत्र का जाप करना चाहिए.

मीन: ‘ओम गं गणपतये नमः’ या ‘ओम अंतरिक्षाय स्वाहा’ मंत्र का जाप करना चाहिए.

गणेश मंत्रों का जाप करने के लिए आप लाल चंदन की माला या रुद्राक्ष की माला का प्रयोग कर सकते हैं. 

मुस्लिम और ईसाई बन जाने वाले 'दलितों' को SC का दर्जा क्यों नहीं ? केंद्र ने बताया कारण

आज जरूर करें इन मंत्रों का जाप, दूर होंगे सभी कष्ट

चर्चित फ्रांसीसी मॉडल ने अपनाया इस्लाम

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -