आज भी लोगों की जुबान पर रटा हुआ है अजित खान का ‘लिलि, डॉन्ट बी सिली…’ डायलॉग

सिर पर बंधी भारी सी पगड़ी और घुमावदार भारी मूछों वाला हिंदी सिनेमा का वो डाकू, जिसे दर्शकों ने 70 के दशक में अजीत (Ajit Khan) के रूप में पहचान मिली. कुछ मूवीज  में अजीत का ये अंदाज देखने को भी मिला, तो वहीं, दूसरी तरफ सिनेमा में छाने वाले अजीत कई मूवीज में सूट बूट पहने पढ़े-लिखे विलेन के रूप में भी दिखाई दिए. आज अजीत खान उर्फ हामिद अली खान (Ajit Khan Death Anniversary) की पुण्यतिथि है. अजीत की डायलॉग डिलीवरी इतनी जबरदस्त होती थी कि उनके स्टाइल को कॉपी करने में लोगों को जरा भी देर नहीं लगने वाली थी.

मूवी ‘जंजीर’ का वो आम सा डायलॉग ‘मोना डार्लिंग’ को उन्होंने अपनी एक अलग ही अदायगी से लोगों के दिलों में उतर गए थे. ‘यादों की बारात’ मूवी का वो डायलॉग तो आपको याद तो होगा ही- ‘लिलि, डॉन्ट बी सिली…’ अपने इस तरह के हिंग्लिश एक्सेंट से तो अजीत ने सभी को दीवाना बनाया. ‘कालीचरण’ का डायलॉग ‘सारा शहर मुझे लॉयन के नाम से जानता है’, इसे कैसे भूल सकते हैं. इस डायलॉग को तो अजीत ने अपनी अनोखी अदायगी से स्क्रीन पर ऐसे बोला था कि आज भी लोग इसे लोग नहीं भूल पाए है.

हिंदी सिनेमा को अजीत के रूप में मिला एक नई तरह का विलेन: अजीत के रूप में हिंदी सिनेमा को एक नई तरह का विलेन मिल गया था, जो अजीबो गरीब मुंह बनाकर लोगों के अंदर अपनी डायलॉग डिलीवरी और चेहरे से खौफ पैदा करने का प्रयास किया जाता है. अजीत ने खुद को एक आम विलेन की जगह स्क्रीन पर हंसता-मुस्कुराता और अपनी डायलॉग्स की अनोखी अदायगी से लोगों को गुदगुदाने वाला विलेन को सबके सामने लेकर खड़ा कर दिया था, जिससे लोगों में विलेन के प्रति नफरत नहीं, बल्कि प्यार उमड़ा.

विक्की और सारा ने पूरा किया अपनी आने वाली फिल्म का इंदौर का शेड्यूल

माँ संग सैलून पहुंची रकुल प्रीत, वायरल हुई फोटोज

ये काली काली ऑंखें गाने पर दिखा दिशा का अलग अवतार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -