EPFO का बड़ा दावा- जून महीने में संगठित क्षेत्र में मिलीं 6.55 लाख नौकरियां

नई दिल्ली: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के अनुसार, जून महीने में लगभग 6.55 लाख नए लोगों को संगठित क्षेत्र में नौकरियां प्राप्त हुईं हैं. इन आंकड़ों से कोरोना वायरस संकट के वर्तमान दौर में संगठित क्षेत्र में रोजगार की स्थिति का पता चलता है. EPFO के मुताबिक, जून में नए पंजीकरण शुद्ध रूप से बढ़कर 6.55 लाख तक पहुंच गए हैं, जबकि मई महीने में यह तादाद 1.72 लाख ही रही थी. 

बता दें कि शुद्ध डेटा का मतलब है कि जो लोग नौकरी छोड़कर गए, इसमें से उन्हें हटा दिया गया. जो लोग दोबारा से जुड़े, उन्हें इसमें जोड़ा गया. EPFO ने यह भी कहा कि इस अनुमान में अस्थायी कर्मचारी शामिल हो सकते है, जिनका योगदान हो सकता है, पूरे वर्ष तक जारी नहीं रहे. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के साथ संबंधित कुल अंशधारकों की तादाद छह करोड़ से अधिक है. EPFO के नियमित वेतन रजिस्टर यानी ‘पेरोल’ आधारित इन ताजा आंकड़े से इस बारे में जानकारी मिली है.

EPFO के मई में जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, नये पंजीकरण की तादाद मार्च, 2020 में घटकर 5.72 लाख पर आ गई थी, यही आंकड़ा फरवरी में 10.21 लाख था. गुरुवार को EPFO कि तरफ से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, अप्रैल में नए पंजीकरण सिर्फ 20,164 रहे जबकि जुलाई में जारी अस्थायी आंकड़े में यह तादाद एक लाख थी.

ATM से नहीं निकला कैश फिर भी कट गया पैसा, बैंक रोज़ाना देगी 100 रुपए हर्ज़ाना, जानें नियम

राजस्थान : आज बंद रहेगी कृषि उपज मंडियां

ट्रैवल बुकिंग में मिल रहा ख़ास ऑफर, कई छूट के साथ फ्री में होगा कोरोना टेस्ट

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -