हर्ष मंदर के घर और दफ्तर पर ED की रेड, पैसों की गड़बड़ी का आरोप

नई दिल्ली: पूर्व IAS अफसर और मानवाधिकार कार्यकर्ता हर्ष मंदर के दिल्ली स्थित घर औऱ कार्यालयों पर गुरुवार (16 सितंबर 2021) को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने रेड मारी। बता दें कि मंदर दिल्ली में दो चिल्ड्रेन होम्स चलाते हैं, जिनमें जाँच एजेंसियों को पैसों के मामले में गड़बड़ी किए जाने की सूचना मिली थी, जिसके बाद यह एक्शन लिया गया। हालाँकि, जाँच एजेंसी के छापे से लगभग तीन घंटे पूर्व ही वह पत्नी के साथ जर्मनी के लिए रवाना हो चुके थे।

मानवाधिकार कार्यकर्ता हर्ष मंदर, बर्लिन स्थित रॉबर्ट बोश्च एकेडमी में 6 महीने की फेलोशिप प्रोग्राम के लिए जर्मनी गए हैं। उन्होने अपनी पत्नी के साथ दिल्ली से सुबह लगभग 3 बजे बर्लिन के लिए फ्लाइट ली। वहीं उसके तीन घंटे के बाद वसंतकुंज स्थित उनके आवास औऱ सेंटर फॉर इक्विटी स्टडीज के उनके ऑफिस पर छापेमारी हुई। इसके साथ ही जाँच एजेंसी ने उनके NGO द्वारा चलाए जा रहे दोनों चिल्ड्रेन होम्स में भी छापेमारी की।

दरअसल, राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के निर्देश पर दिल्ली पुलिस ने हर्ष मंदर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। इसमें कहा गया था कि दिल्ली के मेहरौली स्थित हर्ष मंदर के दो चिल्ड्रेन होम्स अमन घर (लड़कों के लिए) और खुशी रेनबो (लड़कियों के लिए) में पैसों के लेनदेन को लेकर गड़बड़ी पाई गई थी।

GST परिषद की बैठक आज, इन मुद्दों पर किया जा सकता है अहम् विचार

मुंबई में दो बड़े हादसे, निर्माणाधीन फ्लाईओवर का एक हिस्सा गिरा

तेलंगाना ने बनाया 42 करोड़ रुपये का पत्रकार कल्याण कोष: वित्त मंत्री हरीश राव

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -