इनका सेवन देता है तुरंत और स्थित एनर्जी

थकान होने पर वसायुक्त चीजें जैसे चाय या कॉफी पीना या खाना आज सबके लिए आम बात है। कुछ व्यक्ति तो इसको अपनी आदत बना लेता है। न्यूट्रीशियंस की माने तो इस प्रकार का नाश्ता सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

डक यूनिवर्सिटी के फ्रेंक बी. आल्फिन का कहना है कि कैफीन और शुगर से शरीर में तुरंत एनर्जी महसूस होती है, लेकिन यह एनर्जी अस्थायी होती है।

प्रतिदिन 10-12 गिलास पानी पीना चाहिए, साथ ही नाश्ते में ऐसे पदार्थ का सेवन करें जिससे आपको प्रत्येक से 200 कैलोरी प्राप्त हो। नाश्ते के लिए खड़ा अनाज उगाकर उसका सेवन करें, चोकर से निर्मित केक खाएं क्योकि चोकर में मेग्निशियम पाया जाता है। नाश्ते में आलू के दो पराठे के साथ लगभग 50 ग्राम दही लें , यह ऊर्जा का एक अच्छा स्रोत है।

आप चाहें तो नास्ते में उबला अंडा काली मिर्च डालकर खाए, अंडे के सफेद भाग में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है और पीले भाग में अतिरिक्त विटामिन-बी होता है।

ड्रायफ्रूट्स सबसे बेहतर ऑप्शन है, ऊर्जा के पर्याप्त भंडार के लिए एक मुट्ठी सीके हुए मूंगफली के दाने 10 ग्राम गु़ड़ के साथ चबा-चबाकर नाश्ते के तौर पर खाए।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -