इस राज्य में कर्मचारी सप्ताह में अब सिर्फ पांच दिन ही करेंगे काम

रायपुर: छत्तीसगढ़ के प्रदेश कर्मचारियों को 26 जनवरी मतलब गणतंत्र दिवस के अवसर पर गणतंत्र का तोहफा प्राप्त हुआ। सीएम भूपेश बघेल ने प्रदेश कर्मचारियों के लिए कई ऐलान किए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के कर्मचारियों को अब हफ्ते में केवल पांच दिन ही काम करना होगा। इसके साथ-साथ पेंशन के लिए, अंशदायी पेंशन स्कीम के हिस्से के तौर पर प्रदेश का योगदान 10% से बढ़ाकर 14% किया गया है। 

वहीं सीएम ने ऐलान किया कि रिहायशी इलाकों में संचालित व्यवसायिक गतिविधियों के नियमितीकरण के लिए खास प्रावधान किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त महिला सुरक्षा के लिए भी हर जिले में महिला सुरक्षा प्रकोष्ठ का गठन करने की घोषणा सीएम ने किया। प्रदेश में तीरंदाजी को प्रोत्साहित करने के लिए शहीद गुण्डाथुर प्रदेश स्तरीय तीरंदाजी अकादमी भी आरम्भ की जाएगी। इसके अतिरिक्त अन्य पिछड़ा श्रेणी में उद्यमिता विकास हेतु 10 प्रतिशत भूखंड भी आरक्षित किए जाएंगे। 

वही अन्नदाताओं के लिए ऐलान करते हुए मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि खरीफ वर्ष 2022-23 से राज्य में दलहन फसल जैसे मूंग, उड़द, अरहर आदि की खरीदी भी MSP पर की जाएगी। वहीं मजदूर परिवारों की बेटियों के लिए सीएम सशक्तिकरण सहायता योजना आरम्भ होगी। इसके तहत दो बेटियों के बैंक अकाउंट में 20-20 हजार रुपये की रकम का एकमुश्त भुगतान किया जाएगा। 

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय ने ई-वाहनों के लिए ऑनबोर्ड चार्जर विकसित किए

फिलहाल बंद रहेंगे स्कूल! स्कूल शिक्षा मंत्री ने दिया ये बड़ा बयान

पढ़ाई छोड़ी.. पिता के खिलाफ गए.., कई बार रिजेक्शन के बाद रवि को टीम इंडिया में मिला मौक़ा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -