राज्‍यसभा सीटों के चुनाव की तारीख आई सामने

राज्‍यसभा सीटों के चुनाव की तारीख आई सामने

भारत के निर्वाचन आयोग ने राज्यसभा की 24 सीटों के लिए 19 जून को मतदान कराने का फैसला किया है. इन 24 में 18 सीटों का चुनाव कोरोना महामारी के कारण टाल दिया गया था. इनमें से चार-चार सीटें आंध्र प्रदेश और गुजरात से, तीन-तीन मध्य प्रदेश और राजस्थान से, दो झारखंड से और एक-एक मणिपुर और मेघालय से हैं. सोमवार को आयोग ने अरुणाचल प्रदेश, कर्नाटक और मिजोरम की छह सीटों पर भी इन सीटों के साथ ही चुनाव कराने का फैसला किया. इनमें कर्नाटक के चार राज्यसभा सदस्य 25 जून को रिटायर हो रहे हैं, जबकि अरुणाचल प्रदेश के एक सदस्य का कार्यकाल 23 जून को पूरा होगा. मिजोरम से एक राज्यसभा सदस्य 18 जुलाई को सेवानिवृत्त होंगे. इन छह सीटों के लिए अधिसूचना मंगलवार को जारी होगी.

लॉकडाउन में छूट के बाद जोश से भरी नजर आई मायावती, सरकार को दिया यह सुझाव

इसके अलावा निर्वाचन आयोग ने एक बयान में कहा कि इन सीटों पर मतों की गिनती 19 जून की शाम को होगी. मार्च की शुरुआत में चुनावों को टालते हुए चुनाव आयोग ने स्पष्ट कर दिया था कि उम्मीदवारों द्वारा नामांकन दाखिल करने सहित तब तक पूरी हो चुकी प्रक्रियाएं मान्य रहेंगी. एक अधिकारी ने बताया कि केवल मतदान और मतगणना बचा हुआ था. यह काम अब पूरा हो जाएगा. आयोग ने कोरोना वायरस के खतरे का हवाला देते हुए 26 मार्च को राज्यसभा का चुनाव टाल दिया था. इसने कहा था कि स्थिति की समीक्षा करने के बाद इसके बारे में निर्णय लिया जाएगा.

इन लोगों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने खोला राज्य का खजाना

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि छह राज्यों के 17 सदस्य नौ अप्रैल को सेवानिवृत्त हुए थे, जबकि मेघालय से एक सदस्य 12 अप्रैल को रिटायर हुए थे.मूल रूप से ऊपरी सदन की 55 सीटों पर 26 मार्च को चुनाव होने वाला था. लेकिन, 37 उम्मीदवार निर्विरोध चुनाव जीत चुके हैं. बयान में कहा गया है कि आयोग ने केंद्रीय गृह सचिव द्वारा जारी किए गए नवीनतम दिशा-निर्देशों सहित सभी कारकों पर विचार करने के बाद मामले की विस्तार से समीक्षा की है. आयोग ने यह भी निर्णय लिया है कि राज्यों के मुख्य सचिव एक वरिष्ठ अधिकारी को यह सुनिश्चित करने के लिए नियुक्त करेंगे कि चुनाव की व्यवस्था के दौरान कोविड-19 के नियंत्रण के उपायों को लागू किया जा सके. चुनाव आयोग ने संबंधित राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को इन चुनावों के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किया है.

जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के बाद पुलिस को लेकर बेनामी ने कही ये बात

क्या महाशक्ति की कुर्सी छीनने के भय में भारत से डर रहा अमेरिका ?

क्या वाकई अमेठी सांसद स्मृति ईरानी है लापता ? दीवारों पर लगे पोस्टर