क्या बेटे के लिए अमेठी छोड़कर सोनिया ने की गलती, अब स्मृति करेंगी सबका पत्ता साफ़?

May 23 2019 03:58 PM
क्या बेटे के लिए अमेठी छोड़कर सोनिया ने की गलती, अब स्मृति करेंगी सबका पत्ता साफ़?

अमेठी. आप सभी जानते ही हैं कि अब लोकसभा चुनाव के नतीजे आने में कुछ ही समय बचे हैं. ऐसे में कांग्रेस का अभेद्य किला कही जाने वाली अमेठी लोकसभा सीट पर बड़ा उलटफेर हो सकता है जो सभी को हैरान कर सकता है. जी हाँ, इस समय यहां केंद्रीय मंत्री और भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी और कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के बीच मुकाबला है और अब तक की मतगणना में स्मृति ईरानी 14,894 वोट से आगे चल रही हैं और उनके जीतने के आसार भी लग रहे हैं. आपको बता दें कि राहुल यहां से चौथी बार चुनाव मैदान में हैं और अमेठी को छोड़कर राहुल ने केरल की वायनाड सीट से भी चुनाव लड़ा था जहाँ उनकी जीत तय हो गई है लेकिन अमेठी में वह हार के करीब पहुंच चुके हैं.

इस समय स्मृति ईरानी को 1,76,095 वोट, राहुल गांधी को 1,62,065 वोट मिले हैं और भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी आगे 14,030 वोटों से आगे चल रही हैं. वहीं आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में छह मई को अमेठी में मतदान हुए थे और यहां 53.48 फीसदी मतदाताओं ने अपने मतों का प्रयोग किया था। इसी के साथ साल 2014 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी इस सीट से लगातार तीसरी बार सांसद चुने गए थे और उस समय ही भाजपा ने राज्यसभा सांसद स्मृति ईरानी को यहां से मैदान में उतारा था. उस दौरान आम आदमी पार्टी के कुमार विश्वास ने भी यहां से चुनाव लड़ा था और ईरानी ने 3 लाख से ज्यादा वोट हासिल कर राहुल को कड़ी टक्कर दी थी, जबकि कुमार विश्वास की जमानत जब्त हो गई थी. आप सभी को बता दें कि अमेठी संसदीय सीट पर अभी तक 16 लोकसभा चुनाव और 2 उपचुनाव हुए हैं.

इन सभी में से कांग्रेस ने 16 बार कांग्रेस ने जीत दर्ज की. इसी के साथ साल 1977 में लोकदल और 1998 में भाजपा को जीत मिली है और बसपा और सपा अभी तक इस सीट पर अपना खाता नहीं खोल सकी है. अब स्मृति की जीत तय मानी जा रही है. वहीं आपको पता हो कि सोनिया गांधी ने राजनीति में कदम रखा तो उन्होंने 1999 में अमेठी को अपनी कर्मभूमि बनाया और वह इस सीट से जीतकर पहली बार संसद पहुंचीं थी लेकिन, 2004 के चुनाव में उन्होंने अपने बेटे राहुल गांधी के लिए ये सीट छोड़ दी और अब ऐसा लग रहा है मनो राहुल उनकी उम्मीद पर खरे नहीं उतरेंगे..!

भाजपा की जीत पर बोला यह अभिनेता, मोदी और शाह है राजनीति के बाप, अब कभी भी...'

रुझानों में बहुमत के बाद बोले शाह- यह जीत पूरे भारत की जीत है

पीएम मोदी की प्रचंड जीत पर इजरायल के पीएम ने कुछ इस अंदाज में दी बधाई