'नेताओं के साथ कार्यकर्ता भी करें कोरोना प्रोटोकॉल का पालन..', सपा को चुनाव आयोग की चेतावनी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में चुनावी गहमागहमी के बीच आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर रैली निकालने के मामले में मंगलवार (18 जनवरी 2022) को चुनाव आयोग ने समाजवादी पार्टी (सपा) को आगे से ऐसा न करने की चेतावनी दी है। आयोग ने इस चुनाव में इसे सपा की पहली गलती मानते हुए उसे यह कहकर छोड़ दिया कि वो इस अवधि में पूरी तरह से कोरोना दिशानिर्देशों का पालन करेगी।

रिपोर्ट के अनुसार, निर्वाचन आयोग ने अपने आदेश में कहा कि सपा की ओर से चुनाव के मौजूदा दौर के दौरान पहली बार आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की सूचना मिली है। इसलिए पार्टी को भविष्य में सावधान रहने, तमाम मौजूदा दिशा-निर्देशों का पूरी लगन से पालन करने और अपने पार्टी के सभी सदस्यों को निर्देश देने के लिए कहा गया है। बता दें कि यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए 14 जनवरी 2022 को डिजिटल रैली के नाम पर लखनऊ में समाजवादी पार्टी (सपा) के दफ्तर में हजारों की तादाद में भीड़ जुटाई गई थी। उस दिन सीएम योगी की कैबिनेट का हिस्‍सा रहे स्‍वामी प्रसाद मौर्य और डॉ धर्म सिंह सैनी सहित कई विधायकों ने अखिलेश यादव की मौजूदगी में सपा का दामन थामा था।

इसके बाद लखनऊ पुलिस ने सपा के खिलाफ धारा 144 तोड़ने और महामारी एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी। गौतमपल्ली थाने में धारा 144 का उल्लंघन और महामारी एक्ट के तहत लगभग 2500 कार्यकर्ताओं पर केस दर्ज हुआ था। इसको लेकर लखनऊ के पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर ने कहा था कि सभी के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। चुनाव आयोग के निर्देश के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

एंट्रिक्स-देवास डील पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला, कांग्रेस पर क्यों लगे फर्जीवाड़े के आरोप ?

कब्रिस्तान और मदरसों की बॉउंड्री बनवाएगी राजस्थान सरकार, CM गहलोत ने किए कई बड़े ऐलान

'लड़की हैं तो क्या, टिकट दे दें ..', लड़की हूँ लड़ सकती हूँ अभियान पर बोलीं कांग्रेस नेता शहला अहरारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -