जब भी दाऊद और मुंबई ब्लास्ट की बात आई, उद्धव सरकार फैसला नहीं ले सकी- एकनाथ शिंदे

मुंबई: महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे ने एक बार फिर हिंदुत्व को लेकर उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली पूर्व सरकार पर जमकर हमला बोला है। सीएम एकनाथ शिंदे ने कहा है कि, जब भी मामला हिंदुत्व, वीर सावरकर या दाऊद इब्राहिम और मुंबई ब्लास्ट को सामने आता देखकर महाविकास अघाडी सरकार फैसला नहीं ले सकी, जिसमे उद्धव ठाकरे वाली शिवसेना भी शामिल थी। 

एक साक्षात्कार में शिंदे ने कहा है कि, उन्होंने हिंदू हृदय सम्राट बालासाहेब ठाकरे की विचारधारा को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि, यदि 50 विधायकों ने ये निर्णय लिया, तो अवश्य कोई बड़ी वजह रही होगी। कोई छोटी सी बात के लिए इतना बड़ा कदम नहीं उठाता। यहां तक की पार्षद भी ऐसा नहीं करते। सीएम शिंदे बोले कि, 2019 विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिवसेना ने गठबंधन में चुनाव लड़ा। मगर, सरकार बनाई NCP और कांग्रेस के साथ। इस कारण जब भी मामला हिंदुत्व का सामने आया, या सावरकर का आया। मुंबई विस्फोट और दाऊद इब्राहिम का मुद्दा आया, हम फैसले लेने में नाकाम रहे। 

एकनाथ शिंदे NCP के नेता और महाराष्ट्र के पूर्व कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक के बारे में बात कर रहे थे। मलिक को इस साल फरवरी में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अरेस्ट किया था। मलिक को दाऊद इब्राहिम से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में अरेस्ट किया गया है। बता दें कि, इससे पहले एकनाथ शिंद ने कहा था कि बालासाहेब ठाकरे की शिवसेना उन लोगों का समर्थन कैसे कर सकती है, जिन पर मुंबई बम ब्लास्ट के दोषी दाऊद इब्राहिम के साथ संबंध का इल्जाम लगा है। 

राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को लेकर प्रशांत भूषण ने क्यों फैलाया झूठ ?

'BJP के पास ED है, CBI है, लेकिन...,' केजरीवाल ने मारा फिल्म 'दीवार' का डायलॉग, Video

'बयान देना आतंकवाद नहीं, लेकिन गला काटना आतंकवाद..', नूपुर शर्मा पर बोले नकवी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -