क्या वाकई निराश है भाजपा नेता पंकजा मुंडे ?

भारतीय जनता पार्टी नेता पंकजा मुंडे ने कहा है कि राज्य में होने जा रहे विधान परिषद के चुनाव में पार्टी द्वारा प्रत्याशी न बनाए जाने से वे निराश नहीं हैं. दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी व फड़नवीस सरकार में मंत्री रहीं पंकजा पिछले विधानसभा चुनाव में पराली सीट पर अपने चचेरे भाई और राकांपा प्रत्याशी धनंजय मुंडे से हार गई थीं.

जल्द अमेरिका में भी समाप्त हो सकता है लॉकडाउन

शुक्रवार को एक ट्वीट में पंकजा ने अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि हम लोग एक दूसरे का सहयोग करने के लिए हैं. हमारे साथ साहेब (गोपीनाथ मुंडे) का आशीर्वाद है. आप लोगों ने मेरी मां और बहन प्रीतम मुंडे को फोन करके अफसोस जताया है. मैंने आपसे बात नहीं क्योंकि मेरे पास कहने को कुछ नहीं है. मैं निराश नहीं हूं. मैं पार्टी द्वारा घोषित चार प्रत्याशियों को शुभकामनाएं देती हूं.

चीन में तेजी से बढ़ रहा कोरोना का संक्रमण, सामने आए फिर नए पेसेंट

इसके अलावा पार्टी सूत्रों ने बताया कि वरिष्ठ नेता एकनाथ खड़से विधान परिषद के लिए प्रत्याशी न बनाए जाने से आहत हैं. बता दें कि भारतीय जनता पार्टी ने विधान परिषद की नौ सीटों के लिए 21 मई को होने जा रहे चुनाव में पूर्व में राकांपा से सांसद रहे रंजीत सिंह मोहित, गोपीचंद पडालकर, प्रवीन दातके और अजित गोपछड़े को मैदान में उतारा है. इन लोगों ने शुक्रवार को अपना नामांकन कर दिया है. 288 सदस्यों वाली विधान सभा के सदस्य इन सीटों के लिए मतदान करेंगे.

अफगानिस्तान में आर्थिक मांग को लेकर चल रहे प्रदर्शन के बीच हुई गोलीबारी

WHO ने दी चेतावनी, आर्थिक गतिविधियों से बिगड़ सकते हैं हालात

OMG! न्यूयॉर्क में 5 वर्ष के बच्चे की मौत बनी रहस्य, जानें क्या है पूरी बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -