यहां 8000 झटकों के बाद भी नहीं आया भूकंप

Jan 05 2018 10:48 AM
यहां 8000 झटकों के बाद भी नहीं आया भूकंप

सेंटियागो. चिली विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने जानकारी दी है कि चिली में वर्ष 2017 में आठ हजार बार झटके महसूस किए गए लेकिन भूकंप के स्तर को कोई छू तक नहीं पाया. प्रशांत के किनारे 'रिंग ऑफ फायर' पर स्थित चिली एक भूकंपीय क्षेत्र में आता है जहां टेक्टोनिक प्लेट एक-दूसरे को रगड़ते रहते हैं. यह दुनिया में भूकंप से प्रभावित देशों में से एक है और 1960 में 9.5 तीव्रता वाले भूकंप ने तो इतिहास ही रच डाला.

विवि के नेशनल भूकंप विज्ञान केंद्र के मुताबिक गत वर्ष झटकों की संख्या बढ़कर आठ हजार 94 हो गई जो कि गत वर्ष 2016 की तुलना में 26 प्रतिशत अधिक थी. केंद्र ने बताया कि 352 झटके महसूस किये गये जबकि 7742 का तीव्रता का स्तर करीब तीन था. विश्व में तांबा के सबसे बड़े उत्पादकों में शुमार चिली की अधिकांश बड़ी तांबा खानें उत्तरी चिली के क्षेत्र में स्थित हैं जो भूकंप से विशेष रूप से प्रभावित हैं. हाल के वर्षों में, 2010 में चिली में सबसे बड़ा 8.8 तीव्रता वाला भूकंप आया जिसके कारण मध्य-दक्षिणी इलाकों में 500 से अधिक लोग मारे गये. इसके कारण इलाके में सुनामी भी फैल गयी.  

पाक की 1 अरब डॉलर की सुरक्षा मदद पर रोक

ट्रंप की फटकार के बाद भी नहीं सुधरा पाक

अमेरिका ने पाक को दिया एक और तगड़ा झटका

 

?