शिक्षा मंत्रालय ने मार्च 2022 तक शिक्षकों के रिक्त पदों को भरने का लक्ष्य रखा है

 


नई दिल्ली: केंद्रीय विश्वविद्यालयों में शिक्षकों के रिक्त पदों को भरने के लिए शिक्षा मंत्रालय ने मार्च 2022 की समय सीमा तय की है। अधिकांश विश्वविद्यालय 2022 के नए शैक्षणिक वर्ष के अप्रैल में शुरू होने से पहले रिक्त पदों को भरने के लिए तेजी से आगे बढ़ रहे हैं।

मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय विश्वविद्यालयों में रिक्त पदों को भरने की पूरी प्रक्रिया पर शिक्षा मंत्रालय के भीतर एक समर्पित टीम नजर रखे हुए है।

सूत्रों के अनुसार शिक्षा मंत्रालय ने सभी केंद्रीय शिक्षण संस्थानों में आरक्षित श्रेणी के रिक्त पदों के बैकलॉग को सितंबर 2022 तक हर कीमत पर भरने का भी आदेश दिया है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के निर्देश के बाद रिक्त पदों को भरने के लिए बड़े पैमाने पर अभियान शुरू हो गया है।

"शिक्षा मंत्री ने इन पदों को 30 नवंबर तक भरने के आदेश दिए थे, लेकिन पदों को भरने की प्रक्रिया के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था। सूत्रों के अनुसार यह अब तेजी से आगे बढ़ा है।" देश में 50 से अधिक केंद्रीय विश्वविद्यालय हैं, जिनमें 6,000 से अधिक शिक्षण पद खाली हैं।

कोरोना में शादी हुई कैंसिल तो मिलेंगे 10 लाख, जानिए कैसे मिलेगा फायदा?

अचानक टूट गई सड़क, घूमने आए 250 पर्यटक फंसे

कोविड अपडेट: भारत में 16,764 नए मामले सामने आए, ओमिक्रोन केस बढ़कर 1270 हुए

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -