रिश्तेदारों पर ED की रेड पर भड़के सीएम चन्नी, बोले- 'केंद्र सरकार की बड़ी साजिश है...'

चंडीगढ़: ED द्वारा अवैध रेत खनन के केस में नजदीकी रिश्तेदारों के ठिकानों पर छापेमारी को सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने अपने खिलाफ एक बड़ा षड्यंत्र करार दिया है। चन्नी ने कहा कि इस कार्यवाही के पीछे केंद्र सरकार का बड़ा षड्यंत्र है, जिसमें उन्हें फंसाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों पीएम नरेंद्र मोदी की फिरोजपुर रैली यदि सफल नहीं हो सकी तो इसमें मेरा क्या कसूर है? मैं यदि उस वक़्त अपने लोगों तथा किसानों पर गोलियां चलवा देता तो केंद्र के लिए अच्छा बन जाता, मगर मैं अपने लोगों के साथ खड़ा हुआ, जिसके बदले की भावना से मेरे विरुद्ध अब यह कार्रवाई आरम्भ की गई है। अब लोग मेरे साथ खड़े होंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली बार-बार चढ़कर आई है, मगर पंजाब हमेशा डटकर मुकाबला करता रहा है। बंगाल हो या पंजाब, ये सूबे हमेशा क्रांतिकारी रहे हैं। चुनाव के वक़्त केंद्र सरकार ED एवं अन्य एजेंसियों का उपयोग करती है।

इसके साथ ही चन्नी ने कहा कि मैंने पीएम मोदी के स्वास्थ्य के लिए अरदास भी की। इस मसले को लेकर पहले पंजाब को बदनाम किया गया फिर पंजाब में राष्ट्रपति शासन लगाने का प्रयास किया गया। जब नहीं लगा सके तो बड़ा षड्यंत्र रचकर मुझे फंसाने की चाल चली गई है। शिकायत में उनके भांजे का नाम ही नहीं है। दोस्त का नाम जोड़कर केस बनाया गया तथा इसी आधार पर मुझे फंसाने का षड्यंत्र रचा गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें जानकारी प्राप्त हुई है कि उनके भांजे से पूछताछ के चलते कहा गया कि प्रधानमंत्री के दौरे की बात याद रखी जाए। उम्मीदवारों को पर्चे भी भरने नहीं दिए जाएंगे। उन्होंने दावा किया कि इस काम के लिए प्रातः छह बजे तक अदालत खुली रखी गई। सीएम ने कहा कि उनके मंत्रियों को भी धमकियां मिल रही हैं। इसे देखते हुए हम चुनाव आयोग को चिट्ठी लिख रहे हैं कि केंद्र सरकार के ऐसे षड्यंत्रों को रोका जाए। वहीं कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश चौधरी ने पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के नजदीकी पर ED की कार्यवाही पर कहा कि मुख्यमंत्री चन्नी झुकेंगे नहीं, वो कैप्टन अमरिंदर सिंह नहीं हैं जो दबाव में आकर बीजेपी की गोद में बैठ जाएं। प्रभारी ने कहा कि राजनीतिक रूप से मुख्यमंत्री चन्नी को दबाने का प्रयास चल रहा है उनको खत्म करने का प्रयास हो रहा है। ये बीजेपी की भूल है। चन्नी खत्म तो क्या झुकेंगे भी नहीं। पंजाब में मुख्यमंत्री प्रत्याशी के चेहरे पर प्रभारी ने साफ किया कि मुख्यमंत्री चन्नी, प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू एवं सुनील जाखड़ भी हमारे चेहरे हैं।  

एंट्रिक्स-देवास डील पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला, कांग्रेस पर क्यों लगे फर्जीवाड़े के आरोप ?

कब्रिस्तान और मदरसों की बॉउंड्री बनवाएगी राजस्थान सरकार, CM गहलोत ने किए कई बड़े ऐलान

'लड़की हैं तो क्या, टिकट दे दें ..', लड़की हूँ लड़ सकती हूँ अभियान पर बोलीं कांग्रेस नेता शहला अहरारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -