ईडी ने रोटोमैक की 177 करोड़ की संपत्ति पर कब्जा किया

नई दिल्ली : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग मामले में विक्रम कोठारी के स्वामित्व वाले कानपुर की रोटोमेक ग्लोबल की 177 करोड़ रुपये की संपत्ति को जब्त कर अपने कब्जे में ले लिया है. 

ता दें कि एक बैंक से कथित रूप से 3,695 रुपये की धोखाधड़ी करने पर यह कार्रवाई की गई है.जब्त संपत्तियां कानपुर, अहमदाबाद और गांधीनगर, देहरादून और मुंबई में हैं.ईडी ने यह कार्रवाई सीबीआई की रिपोर्ट के आधार पर प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट (पीएमएलए) 2002 के तहत की है.

उल्लेखनीय है कि बैंक ऑफ बड़ौदा द्वारा कोठारी, उसकी निदेशक पत्नी साधना, उसके निदेशक बेटे राहुल और कुछ अज्ञात बैंक अधिकारियों और अन्य के खिलाफ शिकायत पर ईडी और सीबीआई ने मामला दर्ज किया था.कंपनी बैंक से लिए गए लेटर ऑफ क्रेडिट (एलओसी) से भुगतान करती थी और उस पर समूह से जुड़ी घरेलू और विदेशी कंपनियों में 1.5 से 2 फीसदी कमीशन जमा करती है. कम्पनी ने बिना किसी वास्तविक लेनदेन के अपने व्यापार को बढ़ाचढ़ा कर दिखाया और कर्ज का भुगतान नहीं किया. आरोपी कोठारी ने राष्ट्रीयकृत सात बैंकों से कुल 2,919 करोड़ रुपये प्राप्त किए थे.

यह भी देखें

इंडिगो ने ईंधन पर सरचार्ज लगाया

आइडिया ने किया अपनी वोल्ट सेवाओं का विस्तार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -