इस साल आर्थिक वृद्धि दर रहेगी 7.5 फीसदी

इंडिया रेटिंग्स के द्वारा हाल ही में भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को लेकर आंकड़े पेश किये गए है. बताया जा रहा है कि रिपोर्ट में आज यह कहा है कि इस वित्त वर्ष के दौरान देश की आर्थिक वृद्धि दर जहाँ 7.5 फीसदी रहने वाली है. गौरतलब है कि यह अनुमान जहाँ पहले 7.7 फीसदी बताया जा रहा था वहीं अब इसे 7.5 फीसदी कर दिया गया है. इस दौरान ही यह भी कहा गया है कि सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की वृद्धि दर के अनुमान को भी कम किया गया है.

इस रिपोर्ट में ही यह बात भी सामने आई है कि बारिश का रुख इस वर्ष कमजोर देखने को मिला है जिस कारण कृषि उत्पादन की दर में भी गिरावट का अनुमान है और इसको देखते हुए ही GDP वृद्धि दर के अनुमान को कम किया गया है. चालू वित्त वर्ष के दौरान यहाँ कृषि वृद्धि दर को 0.9 फीसदी के करीब बताया जा रहा है जोकि पिछले वर्ष में इसी माह अवधि के दौरान 0.2 फीसदी देखने को मिली थी.

रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि बारिश में कमी देखने को मिली है और इस कारण वृद्दि दर पर यह असर देखने को मिला है. रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि अक्तूबर 2015 के दौरान खरीफ फसल की बुआई के आंकड़े में वृद्धि हुई है और इसके साथ ही यह बढ़कर 10.38 लाख हेक्टेयर क्षेत्र तक पहुँच गई है जोकि पिछले वर्ष में इसी माह अवधि के दौरान 10.26 करोड़ हेक्टेयर क्षेत्र में देखने को मिली थी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -